Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

निपाह से जान गंवाने वाले बच्चे के संपर्क में आए 251 लोगों की पहचान, 11 में नजर आए लक्षण

webdunia
सोमवार, 6 सितम्बर 2021 (22:42 IST)
केरल के स्वास्थ्य विभाग ने 251 व्यक्तियों की पहचान की है, जो निपाह वायरस के संक्रमण से जान गंवाने वाले 12 वर्षीय लड़के के संपर्क में आए थे। इनमें से 38 लोग कोझिकोड मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पृथकवास में हैं और 11 लोगों में लक्षण नजर आए हैं।
 
स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज के मुताबिक संपर्क में आए 251 लोगों में 129 स्वास्थ्यकर्मी हैं। उन्होंने बताया कि कोझिकोड मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 38 लोग पृथकवास हैं, जिनमें से 11 लोगों में संक्रमण के लक्षण दिखे हैं। 8 लोगों के नमूने राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी), पुणे भेजे गए हैं।
webdunia
वेबदुनिया मलयालम के मुताबिक संक्रमण के लक्षण वाले सभी लोगों की हालत स्थिर है। संपर्क में आए 251 लोगों में 54 अत्यंत जोखिम वाली श्रेणी में हैं और इनमें से 30 स्वास्थ्यकर्मी हैं। इनमें से बच्चे के अभिभावक समेत कुछ रिश्तेदार भी हैं।
 
जॉर्ज ने कहा कि एनआईवी, पुणे की टीम ने यहां मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में एक विशेष प्रयोगशाला स्थापित की है। इसमें सोमवार रात से नमूनों की जांच की जाएगी। चिकित्सा विशेषज्ञों की एक टीम ने बच्चे के घर और आसपास के इलाके का निरीक्षण भी किया। पशुपालन विभाग की एक टीम ने भी इलाके में जांच की।
webdunia
मंत्री ने कहा कि बच्चे के परिवार की दो बकरियों के खून और सीरम के नमूनों की भी भोपाल के राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान में जांच कराई जाएगी। जॉर्ज ने बताया कि कोझिकोड तालुक में कोविड-19 टीकाकरण अभियान अगले 48 घंटों के लिए रोक दिया गया है। हालांकि, जांच और अन्य संबंधित गतिविधियां जारी रहेंगी।
 
केरल सरकार ने निपाह वायरस के मामलों से निपटने के लिए सोमवार को प्रबंधन योजना जारी की जिसमें सरकारी और निजी अस्पतालों द्वारा पालन किए जाने वाले स्वास्थ्य प्रोटोकॉल को सूचीबद्ध किया गया है।
 
कोझिकोड के 12 वर्षीय लड़के की रविवार को निपाह वायरस संक्रमण से मौत के बाद राज्य का स्वास्थ्य विभाग हाई अलर्ट पर है। बच्चे के घर के तीन किलोमीटर के दायरे को निरुद्ध क्षेत्र घोषित किया गया है। वहीं, इससे लगे इलाके भी कड़ी निगरानी में हैं। चार जिलों- कोझिकोड, पड़ोस के कन्नूर, मलप्पुरम और वायनाड जिलों में स्वास्थ्य विभाग को हाई अलर्ट पर रखा गया है।
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

फिरोज़ाबाद में वायरल बुखार : केंद्रीय टीम ने कहा- अधिकतर मामले डेंगू के, कुछ स्क्रब टाइफस के