विश्वास मत के साथ कर्नाटक का नाटक समाप्त होने की संभावना

सोमवार, 22 जुलाई 2019 (12:46 IST)
बेंगलुरु। कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस एवं जनता दल (सेक्युलर) के 14 विधायकों के विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफ के कारण उपजे राजनीतिक संकट के बीच विधानसभा में मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी की ओर से विश्वास मत प्रस्ताव पेश करने के बाद इस पर मतदान को लेकर गतिरोध जारी है, जिसके सोमवार को पटाक्षेप होने की संभावना है।
 
दरअसल, विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार ने सदन की कार्यवाही को आज ही संपन्न कराने का संकेत देते हुए कहा कि उनका ध्यान आज की कार्यवाही के ऐंजेंडे को पूरा करना है। उन्होंने यहां सेवाददाताओं से कहा कि सदन की कार्यवाही आज पूरी होने की संभावना है।
 
उच्चतम न्यायालय में कांग्रेस की ओर से याचिका दाखिल कर गुरुवार को जारी अंतरिम आदेश पर स्प्ष्टीकरण मांगे जाने के संबंध में पूछे जाने पर कुमार ने कहा कि मुझे इसकी जानकारी नहीं है।
 
कुमारवामी की ओर से पेश विश्वास मत प्रस्ताव पर अभी तक मतदान नहीं हो सका है। विपक्षी भारतीय जनता पार्टी इस पर अविलंब मतदान की मांग कर रही है जबकि सत्तारूढ गठबंधन की दोनों सहयोगी पार्टियां विलंब की नीति अपना रही है।
 
सत्तारूढ़ गठबंधन को लगता है कि वह समय बढ़ाकर बागी विधायकों को अपने खेमे में लाने में सफल हो जाएंगे। कांग्रेस अभी तक केवल एक बागी विधायक को मनाने में कामयाब रही है जबकि इसके अधिकांश बागी नेता अपने निर्णय पर कायम हैं। सत्तारूढ़ गठबंधन की ओर से अभी भी अपने अंतिम प्रयास जारी हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख चन्द्रयान-2 : इसरो के इतिहास में पहली बार मिशन की कमान दो महिला वैज्ञानिकों के हाथ