Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

किसानों का साथ देने की वजह से केजरीवाल को उठाना पड़ रहा भारी नुकसान, मोदी सरकार ने छीनी ताकतें!

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
गुरुवार, 25 मार्च 2021 (20:21 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली की केजरीवाल सरकार को देश के किसानों का साथ देने की वजह से भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। केंद्र की मोदी सरकार केजरीवाल की ताकत छीन कर एलजी को देने को तैयार है। भाजपा ने लोकसभा में भी माना है कि किसानों का साथ देने की वजह से केजरीवाल सरकार की ताकत छीनी जा रही है। लोकसभा में भाजपा सांसद के मुंह से यह सच बाहर निकल आया।
 
दिल्ली की सांसद मनीक्षी लेखी ने संसद में कही ये बात : नई दिल्ली लोकसभा सीट से भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने संसद में कहा कि दिल्ली पर सिर्फ देश की नहीं अंतर्राष्ट्रीय निगाह होती है। दिल्ली की सीमा के ऊपर जब किसानों के नाम पर आंदोलन किया गया तो दिल्ली में कूच जैसी स्थिति पैदा की गई। इसमें सीधे तौर पर दिल्ली की सरकार मिली हुई थी। केजरीवाल सरकार ने दिल्ली पुलिस को बसें देने से इनकार कर दिया था।
 
सांसद मीनाक्षी लेखी की तरफ से दिए गए बयान से स्पष्ट है कि केंद्र सरकार, किसानों का साथ देने की वजह से अरविंद केजरीवाल सरकार से नाराज है। केजरीवाल सरकार ने किसानों को बंद करने के लिए स्टेडियमों को जेल बनाने की मंजूरी नहीं दी। इसके अलावा किसानों को भरकर ले जाने के लिए बसें देने से भी इंकार कर दिया। इसके बाद अब केंद्र सरकार किसानों का साथ देने की वजह से केजरीवाल सरकार को सजा दे रही है।
 
दिल्ली में जब तक मैं हूं चिंता मत करना : केजरीवाल सरकार लगातार उनके हकों के लिए किसानों का साथ दे रही है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह हमारी सारी शक्तियां छीनना चाहते हैं। उनको लगता है कि अगली बार जब किसानों के लिए जेल बनानी पडे तो फाइल मुख्यमंत्री के पास नहीं, एलजी के पास जाएगी। उन्होंने किसानों से कहा कि आप चिंता मत करना। आपका बड़ा भाई-बेटा इन लोगों से लड़ रहा है। मैं 6 साल से लड़ रहा हूं और मुझे पता है कि इनसे कैसे लड़ना है। किसी हालत में किसानों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लेने देंगे। जब तक मैं दिल्ली में हूं, आप किसी बात की चिंता मत करना।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
कोरोनाकाल में यह कैसा फाग उत्सव! जवाब देने से बचे SDM