देविंदर सिंह मामले में NIA की दूसरे दिन भी छापेमारी

सोमवार, 3 फ़रवरी 2020 (15:40 IST)
श्रीनगर। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने जम्मू-कश्मीर के बर्खास्त पुलिस अधिकारी देविंदर सिंह के कथित तौर पर आतंकवादियों से संबंध के मामले में सोमवार को दूसरे दिन भी शोपियां में कई ठिकानों पर छापेमारी की। 
ALSO READ: NIA की जांच में हुआ खुलासा, बर्खास्त DSP देविंदर सिंह हिजबुल से लेता था 'सैलरी'
देविंदर सिंह को गत माह हिजबुल मुजाहिद्दीन के 2 आतंकवादियों के साथ गिरफ्तार किया गया था जिसने जम्मू-कश्मीर और केंद्र की सुरक्षा एजेंसियों को हैरत में डाल दिया थ। इससे पहले शनिवार को एनआईए का एक 20 सदस्यीय दल देविंदर सिंह के खिलाफ और सबूत जुटाने करने के लिए यहां कश्मीर घाटी पहुंचा था।
 
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एनआईए ने सोमवार सुबह शोपियां में कई ठिकानों पर छापेमारी की। टीम ने हिजबुल मुजाहिद्दीन (एचएम) के आतंकवादी के घर पर छापा मारा जिसकी पहचान पिंजौर निवासी उमर दोबी के रूप में हुई है।
 
इसके अलावा एक अन्य आतंकवादी फारुक अहमद और शोपियां में कुछ अन्य स्थानों पर भी छापेमारी की गई। इसके अलावा दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में अवरिगुंड त्राल में पुलिस उपाधीक्षक सिंह के आवास में भी छापे मारे गए। रविवार को एनआईए ने शोपियां में 5 स्थानों पर छापे मारे।
 
सूत्रों ने बताया कि एनआईए के उपमहानिरीक्षक रैंक के अधिकारी के नेतृत्व वाली टीम शनिवार को अनंतनाग गई और पुलिस अधिकारियों के साथ एक बैठक की। इस समय एनआईए के अधिकारी देविंदर सिंह को रिमांड पर लेकर जम्मू में पूछताछ कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि एजेंसी इस मामले में आगे और भी छापेमारी कर सकती है।
 
तत्कालीन पुलिस उपाधीक्षक देविंदर सिंह को 11 जनवरी को 3 लोगों के साथ गिरफ्तार किया था जिनमें हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर नवीद बाबू और रफी अहमद भी शामिल थे। उसकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने राज्य में कई ठिकानों पर छापेमारी की थी। आरोपी देविंदर सिंह जम्मू-कश्मीर पुलिस की विमान अपहरण निरोधक शाखा में अधिकारी था और श्रीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर तैनात था।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख ODI Series में न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाजी आक्रमण के सामने भारतीय चुनौती आसान नहीं होगी : माइक हेसन