नोएडा : पार्क में नमाज पर पुलिस का नोटिस, पढ़िए क्या है पूरा मामला...

बुधवार, 26 दिसंबर 2018 (11:41 IST)
नोएडा में खुले में नमाज पढ़ने को लेकर पुलिस द्वारा एक नोटिस जारी करने के बाद सियासी माहौल गर्म हो गया है। नोएडा की सेक्टर 58 पुलिस ने इंडस्ट्रियल एरिया में आने वाले नोएडा अथॉरिटी के पार्क में खुले में नमाज पढ़ने पर रोक लगाई है। अब कोई भी सेक्टर 58 स्थित पार्क में नमाज नहीं पढ़ सकता है।


खबरों के अनुसार पुलिस ने इलाके में स्थित सभी कंपनियों को नोटिस जारी करके इसकी सूचना दे दी थी। नोटिस में यह भी कहा गया कि किसी के भी इस इलाके के पार्क में नमाज पढ़ते हुए देखे जाने पर कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इस नोटिस के बाद ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन औवेसी ने उत्तर प्रदेश पुलिस पर जमकर हमला बोला है।

शिकायत के बाद जारी किया गया नोटिस : खबरों के अनुसार अनुमति मिले बिना ही लोगों ने बड़ी संख्या में वहां के पार्क में नमाज पढ़ी तो इस बारे में पुलिस के पास शिकायत की गई। इसे रोकने के लिए पुलिस ने नोटिस जारी किया और पार्क में नमाज पढ़ने पर रोक लगाई।

खबरों के अनुसार सेक्टर-58 थाने में दोपहर के वक्त खासतौर पर पार्कों में नमाज पढ़े जाने की शिकायत मिल रही थी। नमाज पढ़ने वालों में अधिकतर आसपास स्थित कंपनियों के कर्मचारी हैं, ऐसे में कंपनियों से कहा गया है कि वे अपने कर्मचारियों को मस्जिद या ऑफिस कम्पाउंड में छत पर नमाज पढ़ने के निर्देश दें। पुलिस के मुताबिक पार्क अथॉरिटी का है इसलिए किसी भी धर्म के लोगों को अगर उसका उपयोग करना है तो उसके लिए अथॉरिटी से इजाजत लेनी होगी।

औवेसी ने कहा कांवड़ियों पर फूल बरसाती है यूपी पुलिस : यूपी में नोएडा के एक पार्क में पुलिस द्वारा नमाज पढ़ने से रोक लगाने पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन औवेसी ने राज्य पुलिस पर जमकर हमला बोला है। ओवैसी ने ट्वीट कर यूपी पुलिस पर सख्त टिप्पणी करते हुए लिखा कि यहां कांवड़ियों पर फूल बरसाए जाते हैं लेकिन मुसलमानों को नमाज पढ़ने से रोका जाता है।
सांकेतिक फोटो

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING