रजनीकांत का गुस्सा फूटा, तूतीकोरिन में पिता-पुत्र की मौत को 'नृशंस हत्या' बताया

बुधवार, 1 जुलाई 2020 (18:10 IST)
चेन्नई। अभिनेता रजनीकांत ने तूतीकोरिन में कथित रूप से पुलिस की प्रताड़ना के कारण एक व्यक्ति और उसके पुत्र की मौत को बुधवार को 'नृशंस हत्या' करार दिया और इस मामले की जांच कर रहे एक न्यायिक दंडाधिकारी के साथ कुछ पुलिस कर्मियों के गलत बर्ताव पर आश्चर्य प्रकट किया।
 
रजनीकांत ने ट्वीट किया, 'इन्हें किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जाना चाहिए।' उन्होंने घटना पर तमिल में ट्वीट करते हुए अपनी तस्वीर साझा की जिसमें वह आक्रोशित भावभंगिमा में दिखाई दे रहे हैं।
 
उन्होंने कहा, 'पिता और पुत्र को प्रताड़ित कर उनकी नृशंस हत्या से मानवता शर्मसार हुई है। (न्यायिक) दंडाधिकारी के सामने जिस प्रकार का बर्ताव कुछ पुलिस कर्मी कर रहे थे और बोल रहे थे, उससे मुझे झटका लगा है। जो लोग भी घटना में शामिल हैं, उन्हें उचित दंड मिलना चाहिए। उन्हें किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जाना चाहिए।'
मोबाइल फोन की दुकान चलाने वाले पी जयराज और उनके बेटे फेनिक्स को लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।
 
उन दोनों की मौत कोविलपट्टी के एक अस्पताल में 23 जून को हुई थी, जिसके बाद पिता पुत्र के परिजन ने आरोप लगाया था कि मौत से पहले सतनकुलम पुलिस थाने में दोनों को बेरहमी से पीटा गया था।
 
इस घटना से देशव्यापी रोष उत्पन्न हुआ जिसके बाद पांच पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया, जिसमें एक निरीक्षक और दो उप निरीक्षक शामिल हैं।तमिलनाडु सरकार ने सोमवार को मामला सीबीआई को सौंप दिया था। (भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख UPSC ने सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा के लिए छात्रों को दी परीक्षा केंद्र बदलने की इजाजत