Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Sushant Singh Case : रिया का सुशांत की बहन और डॉक्टर पर ‘फर्जी’ नुस्खा तैयार करने का आरोप

webdunia
सोमवार, 7 सितम्बर 2020 (22:54 IST)
मुंबई। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) को आत्महत्या के लिए उकसाने की आरोपी अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) ने मुंबई पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराकर राजपूत की बहन प्रियंका सिंह (Priyanka Singh) और दिल्ली के एक डॉक्टर पर जालसाजी तथा दवाओं का ‘फर्जी’ नुस्खा तैयार करने का आरोप लगाया है।
रिया ने रविवार को यहां बांद्रा थाने को भेजी गई अपनी शिकायत में प्रियंका सिंह और दिल्ली स्थित राम मनोहर लोहिया अस्पताल में कार्यरत डॉ. तरुण कुमार के खिलाफ जालसाजी के लिए भारतीय दंड संहिता के संबंधित प्रावधानों, स्वापक औषधि और मन:प्रभावी पदार्थ (एनडीपीएस) कानून एवं दूरचिकित्सा पद्धति के दिशानिर्देशों के तहत मामला दर्ज करने की मांग की है।
रिया (28) ने अपनी शिकायत में कहा कि राजपूत को बाइपोलर डिसऑर्डर होने का पता चला था और उनका अनेक अन्य मानसिक सेहत संबंधी समस्याओं के लिए इलाज चल रहा था। उन्होंने शिकायत में कहा कि राजपूत सही से इलाज नहीं करा रहे थे और अकसर दवाएं लेना बंद कर देते थे।
रिया की शिकायत के अनुसार, ‘राजपूत ने 8 जून, 2020 को मुझे फोन के वो संदेश दिखाए जिनमें उनके और उनकी बहन प्रियंका के बीच बातचीत हुई है और प्रियंका ने उन्हें दवाओं की एक सूची भेजी है। मैंने राजपूत को बताया कि उन्हें डॉक्टरों ने पहले ही दवाएं बता रखी हैं, जो उनका पहले से इलाज कर रहे हैं।’
रिया ने कहा, ‘हालांकि वह (राजपूत) मुझसे सहमत नहीं हुए और कहा कि केवल वो ही दवाएं लेंगे, जो उनकी बहन कह रही हैं।’ उन्होंने कहा कि उसी दिन राजपूत ने रिया से उनके घर से जाने को कहा कि क्योंकि उनकी बहन मीतू सिंह कुछ दिन के लिए रुकने आ रही थीं।
शिकायत के मुताबिक, ‘यह बात सामने आ गई है कि राजपूत ने 8 जून को अपनी बहन प्रियंका से कहा था कि वह उक्त दवाएं बिना डॉक्टर के परामर्श पत्र के नहीं ले पाएंगे। उसी दिन उनकी बहन प्रियंका ने उन्हें दिल्ली के डॉ राम मनोहर लोहिया अस्पताल में कार्यरत डॉ. तरुण कुमार के हस्ताक्षर वाला नुस्खा भेज दिया।’
 
रिया ने अपनी शिकायत में कहा, ‘प्रथम दृष्टया प्रिसक्रिप्शन जाली लगता है। डॉक्टर ने जो दवाएं सुझाईं, उन्हें रोगी के साथ बातचीत के बिना डिजिटल तरीके से नहीं सुझाया जा सकता।’
उन्होंने कहा, ‘राजपूत की मौत यह प्रिसक्रिप्शन मिलने के कुछ दिन बाद हो गई थी, जिसमें उन्हें उनकी बहन प्रियंका और डॉक्टर तरुण कुमार के कहने पर गैरकानूनी तरीके से मन:प्रभावी पदार्थ का परामर्श दिया गया।’ (भाषा) 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ICICI Bank-Videocon मनी लॉन्ड्रिंग केस में दीपक कोचर गिरफ्तार