सबरीमाला बवाल : दो महिलाओं को लौटना पड़ा बैरंग

रविवार, 21 अक्टूबर 2018 (18:29 IST)
सबरीमाला। आंध्रप्रदेश की दो महिलाएं रविवार को भगवान अय्यपा के दर्शन के लिए सबरीमाला पहुंचीं जिससे तनाव बढ़ गया और श्रद्धालुओं के भारी विरोध के बाद उन्हें वापस जाना पड़ा।
 
 
पुलिस महानिदेशक ने पत्रकारों को बताया कि सबरीमाला मंदिर में दर्शन के संबंध में प्रचलित परंपराओं से बेखबर ये महिलाएं अपने परिवार के साथ भगवान अयप्पा मंदिर में पूजा-अर्चना के लिए यहां आई थीं। महिलाएं को 50 वर्ष से कम उम्र की होने के शक पर श्रद्धालुओं ने महिलाओं को पंबा से कुछ मीटर की दूरी पर रोक दिया।
 
पुलिस महानिदेशक ने बताया कि महिलाओं की पहचान गुंटूर की वसंती और आदिशेष के रूप में हुई है। उन्होंने पुलिस को बताया कि भारी विरोध के कारण अब वे मंदिर जाने की इच्छुक नहीं हैं और न ही वे परंपराओं को तोड़ना चाहती हैं।
 
सभी उम्र की महिलाओं को सबरीमाला मंदिर में प्रवेश देने की इजाजत देने के उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद भी 10 से 50 वर्ष की बालिकाओं और महिलाओं को मंदिर में नहीं जाने दिया जा रहा है। मंदिर खुलने के चौथे दिन भी श्रद्धालुओं ने भारी विरोध किया। सोमवार को 5 दिवसीय मासिक पूजा की समाप्ति के बाद मंदिर रात 11 बजे बंद हो जाएगा। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING