महिलाओं की पिटाई की वीडियो वायरल, चार पुलिस अधिकारियों को मिली यह सजा

शनिवार, 22 दिसंबर 2018 (18:25 IST)
जौनपुर। भूमि विवाद में उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में एक प्रखंड प्रमुख की महिलाओं के साथ मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद लापरवाही के लिए चार पुलिस अधिकारियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है। प्रखंड प्रमुख उत्तर प्रदेश के एक पूर्व मंत्री का भाई है।
 
पुलिस अधीक्षक दिनेश पाल सिंह ने बताया कि 14 दिसंबर को ककोरगहना गांव में प्रखंड प्रमुख दीपचंद सोनकर ने एक जमीन से जबरन रास्ता बनाने की कोशिश की। गांव की महिलाओं ने विरोध किया तो सोनकर और उनके साथियों ने महिलाओं की जमकर पिटाई की। 
 
सिंह ने बताया कि शुक्रवार को घटना का एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें प्रखंड प्रमुख और उनके साथी खुलेआम महिलाओं की पिटाई करते देखे गए। इस पर तत्काल स्थानीय थाना पुलिस की भूमिका संदिग्ध देखते हुए सीओ सदर विनय कुमार द्विवेदी को जांच कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया गया।
 
पुलिस अधीक्षक ने बताया जाँच में सराय ख्वाजा पुलिस की भूमिका संदिग्ध पाई गई। रिपोर्ट के आधार पर थाने के प्रभारी निरीक्षक राजेश यादव और तीन उप निरीक्षकों जगदीश यादव, कौशलेंद्र दुबे और प्रभु दयाल को तत्काल लाइन हाजिर कर दिया गया। पुलिस ने पांच आरोपियों में से चार को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी तथा प्रखंड प्रमुख अब भी फरार है।
 
दीपचंद उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री जगदीश सोनकर का भाई है। दीपचंद सपा सदस्य हैं और उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है, जिसकी पुष्टि सपा जिलाध्यक्ष लाल बहादुर यादव ने की। (भाषा) 
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख भाजपा नेता का बड़ा बयान, तेजस्वी को बता दिया बिहार का भविष्य