Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

चौतरफा लिवाली के बल पर 57 हजार के पार पहुंचा सेंसेक्स, निफ्टी हुआ 17 हजारी

webdunia
मंगलवार, 31 अगस्त 2021 (16:42 IST)
मुंबई। शेयर बाजारों में तेजी का सिलसिला जारी है और बीएसई सेंसेक्स मंगलवार को 663 अंक उछलकर पहली बार 57,000 अंक के ऊपर बंद हुआ। एनएसई निफ्टी भी 17,000 अंक के ऊपर निकल गया। वैश्विक स्तर पर सकारात्मक रुख तथा वृद्धि की उम्मीद में निवेशक शेयर बाजार में लिवाल बने हुए हैं।
 
कारोबारियों के अनुसार सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि दर का आंकड़ा आने से पहले बाजार धारणा सकारात्मक रही। इसके अलावा डॉलर के मुकाबले रुपए की विनिमय दर में मजबूती से भी बाजार को समर्थन मिला। इस बीच राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के आंकड़े के अनुसार देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में 20.1 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई।

 
बाजार में लगातार चौथे दिन तेजी रही और 30 शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 662.63 अंक यानी 1.16 प्रतिशत उछलकर रिकार्ड 57,552.39 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 57,625.26 अंक के उच्चस्तर तक चला गया था। बाजार में तेजी के साथ बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण उछलकर अब तक के उच्चतम स्तर 2,50,02,084.01 करोड़ रुपए तक पहुंच गया। सेंसेक्स को 56,000 से 57,000 अंक के बंद स्तर पर पहुंचने में केवल दो दिन लगे।

 
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 201.15 अंक यानी 1.19 प्रतिशत चढ़कर अब तक के उच्चतम स्तर 17,132.20 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह रिकार्ड 17,153.50 अंक तक चला गया था। सेंसेक्स के शेयरों में 6.99 प्रतिशत की तेजी के साथ सर्वाधिक लाभ में भारती एयरटेल का शेयर रहा। कंपनी के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल के शुल्क दरों में वृद्धि के संकेत के बाद कंपनी का शेयर चढ़ा।
 
इसके अलावा बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, एशियन पेंट्स, टाइटन, टीसीएस और टेक महिंद्रा में भी प्रमुख रूप से 4.94 प्रतिशत तक की तेजी रही। दूसरी तरफ केवल 3 शेयरों- नेस्ले इंडिया, इंडसइंड बैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज में 1.55 प्रतिशत तक की गिरावट रही। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि फेडरल रिजर्व के नीति के मामले में उदार रुख फिलहाल बनाए रखने की टिप्पणी और जीडीपी आंकड़ा जारी होने से पहले चौतरफा लिवाली से तेजड़ियों के दम पर घरेलू शेयर बाजार रिकार्ड ऊंचाई पर पहुंच गया।

 
रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति प्रमुख विनोद मोदी के अनुसार एक महीने के भीतर निफ्टी के 17,000 के स्तर को पार करने के साथ घरेलू शेयरों में तेजी जारी है। उन्होंने कहा कि अनुकूल वैश्विक रुख के साथ विभिन्न क्षेत्रों में लिवाली जारी रहने से बाजार को गति मिली। सभी प्रमुख खंडवार सूचकांक लाभ में रहें। धातु, वित्तीय (बैंक को छोड़कर) क्षेत्र में अच्छा सुधार देखने को मिला।
 
मोदी ने कहा कि कोष जुटाने के कारणों के स्पष्ट होने तथा शुल्क दरों में वृद्धि के संकेत से भारती एयरटेल पर निवेशकों की नजर रही। हालांकि, मझोली और छोटी कंपनियों के शेयरों में मुनाफावसूली के कारण इनका प्रदर्शन कुछ कमजोर रहा। बीएसई दूरसंचार, प्रौद्योगिकी, उपयोगी सेवाएं, स्वास्थ्य और धातु समेत सभी सूचकांक लाभ में रहें। इनमें 4.90 प्रतिशत तक की तेजी आई। बीएसई 'मिडकैप' और 'समॉलकैप' (मझोली और छोटी कंपनियों के शेयरों का सूचकांक) 0.86 प्रतिशत तक मजबूत हुआ।

 
वैश्विक शेयर बाजारों में तेजी का रुख जारी है। इसका कारण अमेरिकी फेडरल रिजर्व की तरफ से उदार रुख बनाने रखने की टिप्पणी तथा आर्थिक पुनरूद्धार की उम्मीद है। एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई, हांगकांग, टोक्यो और सियोल लाभ में रहें। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी दोपहर कारोबार में तेजी का रुख रहा। इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.83 प्रतिशत की गिरावट के साथ 71.63 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।
 
अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपए की विनिमय दर 29 पैसे और मजबूत होकर 73.00 पर बंद हुआ। यह लगातार चौथा कारोबारी सत्र है, जब रुपए में मजबूती आई है। शेयर बाजार के पास उपलब्ध आंकड़े के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध लिवाल रहे। उन्होंने सोमवार को 1,202.81 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर खरीदे।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ऑस्ट्रेलियाई PM बोले- वर्ष के अंत तक आ सकते हैं 3000 अफगानी