Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Pitra Kavach : पितृ ऋण से मुक्ति पाना है तो श्राद्ध में पढ़ें पवित्र पितृ कवच

webdunia
पितृ कवच- पितरों को प्रसन्न करके शुभाशीष देता है यह पवित्र पाठ। श्राद्ध पक्ष के दिनों में प्रतिदिन इसका पाठ अवश्‍य करना चाहिए। ऐसा करने से पितर देव खुश होते हैं तथा हमें खुशहाल जीवन जीने का आशीष देकर जाते है।
 
। पितृ कवच।। 
 
कृणुष्व पाजः प्रसितिम् न पृथ्वीम् याही राजेव अमवान् इभेन।
 
तृष्वीम् अनु प्रसितिम् द्रूणानो अस्ता असि विध्य रक्षसः तपिष्ठैः॥
 
तव भ्रमासऽ आशुया पतन्त्यनु स्पृश धृषता शोशुचानः।
 
तपूंष्यग्ने जुह्वा पतंगान् सन्दितो विसृज विष्व-गुल्काः॥
 
प्रति स्पशो विसृज तूर्णितमो भवा पायु-र्विशोऽ अस्या अदब्धः।
 
यो ना दूरेऽ अघशंसो योऽ अन्त्यग्ने माकिष्टे व्यथिरा दधर्षीत्॥
 
उदग्ने तिष्ठ प्रत्या-तनुष्व न्यमित्रान् ऽओषतात् तिग्महेते।
 
यो नोऽ अरातिम् समिधान चक्रे नीचा तं धक्ष्यत सं न शुष्कम्॥
 
ऊर्ध्वो भव प्रति विध्याधि अस्मत् आविः कृणुष्व दैव्यान्यग्ने।
 
अव स्थिरा तनुहि यातु-जूनाम् जामिम् अजामिम् प्रमृणीहि शत्रून्।
 
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

18 सितंबर 2019 Shani Margi : आज शनि हुए मार्गी, धनु राशि में बदली अपनी चाल, 7 राशियां होंगी मालामाल