Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

विंबलडन : फेडरर के खेल से ज्यादा छाए रहे उनके नए कपड़े

हमें फॉलो करें webdunia
webdunia

मयंक मिश्रा

मंगलवार, 3 जुलाई 2018 (15:46 IST)
दुनिया के नंबर-2 टेनिस खिलाड़ी स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर ने विंबलडन का खिताब बचाने की शुरुआत सोमवार को दुसान लाजोविक को सीधे सेटो में हराकर की। मैच की शुरूआत से ही फेडरर के खेल से ज्यादा उनके कपड़ों का जिक्र हुआ।
 
1994 से फेडरर का करार नाइकी से था, जो इस साल मार्च में खत्म हो गया। इसके बाद से ही फेडरर का नाइकी या किसी अन्य ब्रांड के साथ जाने की बातें सामने आती रही है। सोमवार को फेडरर के सेंटर कोर्ट पर आते ही सारी अटकलें समाप्त हो गई। वे जापानी कंपनी यूनिक्लो के कपड़े पहने हुए थे। 
 
बताया जा रहा है की यूनिक्लो के साथ उनका 10 साल का करार हुआ है। जिसमें फेडरर को 300 करोड़ डॉलर मिलेंगे। इन दस सालों तक फेडरर का खेलते रहना लगभग नामुमकिन है। साथ ही फेडरर अपने कपड़ों पर किसी और ब्रांड के लोगो को भी लगा सकतें हैं, जो की उनके नाइकी के करार में संभव नहीं था। 
 
यूनिक्लो सिर्फ कपडे बनाने वाली कंपनी है इसलिए फेडरर जूतों के लिए किसी और से अनुबंध कर सकतें हैं। फेडरर फिलहाल नाइकी के जूते पहनकर ही खेल रहें हैं। उन्हें यूनिक्लो के साथ करार करने से फायदे तो काफी हुए हैं। उनका नुकसान बस इतना है की उनके नाम का लोगो अब दिखाई नहीं देगा क्योंकि उसको इस्तेमाल करने का अधिकार नाइकी के पास है, वैसे फेडरर के अनुसार यह थोड़े समय बाद फिर लौट सकता है। 
 
कल के मैच में इन नए कपड़ों के अलावा फेडरर के खेल में वही पुराना अंदाज था। उन्होंने सर्विस अच्छी की और उनका फुटवर्क बढ़िया था, जिसके चलते लाजोविक के लिए शॉट्स चुनना मुश्किल भरा था। वे ज्यादातर शॉट्स में फेडरर को कोई खास मुश्किल नहीं दे पाए। 
 
पहले मैच के हिसाब से खासकर जब फेडरर हाल ही में फाइनल हार कर आए हैं। कल का दिन फेडरर के लिए बढ़िया माना जा सकता है। फेडरर को गेरी वेबर ओपन के फ़ाइनल में हराने वाले बोर्ना कोरिच कल पहले ही दौर में बाहर हो गए। उनके साथ कल बाहर होने वालों में स्लोअन स्टीफंस भी शामिल थीं। 
 
पिछले साल भी स्टीफंस पहले दौर में ही बाहर हो गई थीं। इसके बाद उन्होंने यू एस ओपन जीता था। जिसके चलते उनका इस बार यहां बेहतर करने की उम्मीदें थीं। 
 
कल का एक बड़ा उलटफेर एलीना स्वितोलिना की हार था। एलीना ने ग्रैंड स्लैम के अलावा दूसरे टूर्नामेंट्स में बढ़िया प्रदर्शन किया था। ऐसे में उनका पहले ही दौर में हारना कोई सोच नहीं सकता था। 
 
वैसे कल का सबसे बड़ा उलटफेर सीड दिमित्रोव का हारना था। उनको वावरिंका ने चार सेटों में हराया। पहला सेट आसानी से जीतने के साथ, दूसरे और तीसरे में बढ़त बनाने के बावजूद कल दिमित्रोव हार गए। चौथे सेट में उनका गुस्सा उनके शॉट्स में देखा जा सकता था, और इस सेट की शुरुवात से ही उनके हारने की बात हर गुजरते पॉइंट्स से पक्की होते जा रही थी। 
 
एंडी मर्रे ने हाल ही में वावरिंका को हराया था, और फिटनेस के मामले में भी वावरिंका से बेहतर दिखाई दिए थे। बावजूद इसके वे विंबलडन में नहीं खेले और अब वावरिंका का एक टॉप-10 खिलाडी के खिलाफ जीत जाना जरूर मर्रे को नहीं खेलने के फैसले को फिर से सोचने पर मजबूर कर गया होगा। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

FIFA WC 2018 : मैक्सिको पर जीत के बाद नेमार को नहीं आलोचनाओं की परवाह