मजबूत वैश्विक संकेतों के दम पर शेयर बाजार में लौटी रौनक

शुक्रवार, 4 जनवरी 2019 (17:14 IST)
मुम्बई। बीते 2 दिनों से गिरावट को झेलने वाले घरेलू शेयर बाजार विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों से उत्साहित निवेशकों की लिवाली के दम पर शुक्रवार को तेजी में बंद हुए। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 181.39 अंक की बढ़त के साथ 35,695.10 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 55.10 अंक की तेजी के साथ 10,727.35 अंक पर बंद हुआ।


अमेरिका और चीन के बीच 7 और 8 जनवरी को उपमंत्री स्तर की बातचीत होने की खबर से निवेशकों को राहत मिलती दिखी जिससे सेंसेक्स बढ़त के साथ 35,590.71 अंक पर खुला, हालांकि देश के सेवा क्षेत्र की दिसंबर में रफ्तार सुस्त पड़ने से यह कारोबार के दौरान 35,382.08 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़क गया। कारोबार के दौरान यह 35,744.20 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा और अंतत: गत दिवस की तुलना में 0.51 प्रतिशत की बढ़त के साथ 35,695.10 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की 30 में से 21 कंपनियां हरे निशान में रहीं। निफ्टी भी तेजी के साथ 10,699.70 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 10,741.05 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,628.65 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़का। यह अंतत: गत दिवस की अपेक्षा 0.52 फीसदी की तेजी लेता हुआ 10,727.35 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 33 कंपनियां हरे निशान में रहीं।

दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मझौली कंपनियों में भी लिवाली देखी गई। बीएसई का मिडकैप 0.48 प्रतिशत यानी 71.67 अंक की तेजी में 15,147.60 अंक पर और स्मॉलकैप 0.14 प्रतिशत यानी 19.73 अंक की बढ़त के साथ 14,592.41 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में शुक्रवार को कुल 2,765 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 1,338 में तेजी और 1,264 में गिरावट रहीं जबकि 163 कंपनियों के शेयरों के दाम दिन भर के उतार-चढाव के बाद अपरिवर्तित बंद हुए।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख मणिपुर में प्रधानमंत्री मोदी ने किया 8 परियोजनाओं का उद्घाटन