Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

शाकिब ने कहा था इस बार टी-20 विश्वकप जीतने उतरेंगे, सुपर 12 का एक भी मैच नहीं जीत पायी बांग्लादेश

webdunia
शुक्रवार, 5 नवंबर 2021 (10:30 IST)
दुबई:टी-20 के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडर शाकिब अल असन ने टी-20 विश्वकप के शुरु होने से पहले कह दिया था कि इस बार बांग्लादेश टी-20 विश्वकप सिर्फ खेलने नहीं जीतने के इरादे से उतरेगी। क्योंकि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड जैसी टीमों को वह अपने घर में सीरीज हरा चुकी थी।

लेकिन जैसे ही टी-20 विश्वकप शुरु हुआ बांग्लादेश अपना पहला ही मैच स्कॉटलैंड से 5 रनों से हार बैठी। ओमान के खिलाफ भी टीम की बल्लेबाजी लचर रही लेकिन ओमान को रनों के लक्ष्य का पीछा करने का अनुभव नहीं था इसलिए यह मैच को जैसे तैसे जीतकर बांग्लादेश सुपर 12 में तो आ गई लेकिन बड़ी टीमों के खिलाफ नहीं टिक पाई।

बांग्लादेश एक नहीं दो नहीं लगातार 5 मैच हार गई और सुपर 12 का एक भी मैच जीतने में नाकाम रही। बांग्लादेश सिर्फ वेस्टइंडीज को थोड़ी बहुत टक्कर दे पायी जिसने बांग्लादेश को अंतिम गेंद पर 3 रनों से हराया। बाकी सारे मुकाबले एकतरफा रहे थे।

साफ तौर पर बांग्लादेश की हेकड़ी कल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी निकल गई जिसको उसने कुछ ही समय पहले अपने मैदान पर सीरीज जीती थी। कल बांग्लादेश को यह पता चल गया होगा कि सीरीज जीत और विश्वकप के मैच में क्याा अंतर होता है।

इस कारण अंकतालिका में बांग्लादेश सबसे नीचे है और अपना खाता तक नहीं खोल पायी और नेट रन रेट भी -2.383 है।
webdunia

ऑस्ट्रेलिया ने बांग्लादेश को 8 विकेट से हराकर दी टूर्नामेंट की पांचवी हार

लेग स्पिनर एडम जंपा के पांच विकेट और कप्तान आरोन फिंच की तूफानी पारी से ऑस्ट्रेलिया ने आईसीसी टी20 विश्व कप के सुपर 12 के ग्रुप ए मैच में गुरुवार को यहां बांग्लादेश को 82 गेंद शेष रहते हुए आठ विकेट से करारी शिकस्त देकर सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदें जीवंत रखी।

बांग्लादेश की पारी ताश के पत्तों की तरह बिखर गयी। उसका कोई भी बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाजों और स्पिनरों का सामना नहीं कर पाया। उसकी टीम पहले बल्लेबाजी के लिये आमंत्रित किये जाने के बाद केवल 15 ओवर में 73 रन पर आउट हो गयी।

ऑस्ट्रेलिया ने 6.2 ओवर में दो विकेट पर 78 रन बनाकर अपने नेट रन रेट में भी सुधार किया। फिंच ने 20 गेंदों पर दो चौकों और चार छक्कों की मदद से 40 रन बनाये। उन्होंने डेविड वार्नर (14 गेंदों पर 18) के साथ पहले विकेट के लिये 58 रन जोड़े।

ऑस्ट्रेलिया के अब चार मैच में दक्षिण अफ्रीका के समान छह अंक हैं। फिंच की टीम हालांकि बेहतर रन रेट के कारण दक्षिण अफ्रीका से आगे दूसरे नंबर पर पहुंच गयी है। ऑस्ट्रेलिया का नेट रन रेट 1.031 और दक्षिण अफ्रीका 0.742 है। इंग्लैंड चार मैचों में आठ लेकर ग्रुप में शीर्ष पर है।

जंपा ने चार ओवर में 19 रन देकर पांच विकेट लिये। उनके अलावा तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क (21 रन देकर दो) और जोश हेजलवुड (आठ रन देकर दो) ने मिलकर चार विकेट हासिल किये जबकि आलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल (छह रन देकर एक) ने एक बल्लेबाज को पवेलियन भेजा।
webdunia

ऑस्ट्रेलिया के सामने छोटा लक्ष्य था और फिंच नेट रन रेट में सुधार करने के लिये कम से कम ओवरों में लक्ष्य तक पहुंचना चाहते थे। उन्होंने मुस्ताफिजुर को निशाने पर रखा। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने इस तेज गेंदबाज पर चौके और छक्के से शुरुआत की और फिर अगले ओवर में भी एक छक्का लगाया। मुस्ताफिजुर के इस ओवर में वार्नर ने भी तीन चौके जड़े।

फिंच ने तास्किन अहमद पर लगातार दो छक्के जमाये लेकिन इस तेज गेंदबाज ने इसी ओवर में उन्हें बोल्ड कर दिया। शोरिफुल इस्लाम ने वार्नर की गिल्लियां बिखेरी लेकिन मिशेल मार्श (पांच गेंदों पर नाबाद 16) ने पावरप्ले के तुरंत बाद टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया। उन्होंने तास्किन पर डीप मिडविकेट क्षेत्र में विजयी छक्का लगाया।

बांग्लादेश की तरफ से केवल तीन बल्लेबाज मोहम्मद नईम (17), कप्तान महमुदुल्लाह (16) और शमीम हुसैन (19) ही दोहरे अंक में पहुंचे। उसकी पारी में सात चौके और एक छक्का लगा।

बांग्लादेश शीर्ष क्रम लड़खड़ाने के बाद एक समय पांच विकेट पर 33 रन पर संघर्ष कर रहा था। महमुदुल्लाह और शमीम ने बीच में वापसी की उम्मीद जगायी। शमीम ने इस बीच जंपा पर पारी का एकमात्र छक्का भी लगाया।

जंपा ने शमीम को आउट करने के बाद अगली गेंद पर महेदी हसन को पगबाधा आउट किया। उनके पास अगले ओवर की पहली गेंद पर हैट्रिक का मौका था लेकिन विकेटकीपर मैथ्यू वेड ने कैच छोड़ दिया।स्टार्क ने महमुदुल्लाह को विकेट के पीछे कैच कराया जबकि जंपा ने बाकी बचे दोनों विकेट लेकर बांग्लादेश की पारी का अंत किया।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारतीय क्रिकेट के इतिहास के सबसे महंगे कोच होंगे द्रविड़, इतनी होगी फीस