Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

शिक्षक दिवस पर रोचक कविता : साइकिल हाथ में, छाते के साथ में

webdunia
गफूर स्नेही 

 
साइकिल हाथ में 
छाते के साथ में 
कपड़े की थैली है 
उजली मटमैली है 
कंधे पर बैग है 
वही मंथर वेग है 
खाना-पानी संग है 
उड़ा हुआ रंग है 
अफसर से तंग है 
नीति कर्म में जंग है 
गांव तो चाहता है 
विभाग न चाहता है 
बदली की धमकी है 
सरपंच की घुड़की है 
बच्चे कहते हैं 
रोक देंगे रस्ते हैं 
माएं दुआ देती 
बहुए घूंघट लेती 
निवृत्ति में बरस 
चार बाकी बस 
प्रमोशन न चाहते 
ऊंचाई न चाहते 
ये जमीन आन की 
वे हांके आसमान की 
शिक्षक आधी सदी 
नेकी एक न बदी। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सितंबर माह में नया वाहन खरीदने के शुभ मुहूर्त