Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

ओलंपिक में हार के बाद हॉकी खिलाड़ी के घर के बाहर मना रहे थे जश्न, 1 आरोपी गिरफ्‍तार

हमें फॉलो करें webdunia

निष्ठा पांडे

गुरुवार, 5 अगस्त 2021 (17:01 IST)
हरिद्वार। भारतीय महिला हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया के शरारती पड़ोसियों ने भारतीय महिला हॉकी टीम की हार पर खुशियां जाहिर कर पूरे देश को शर्मसार कर दिया।वंदना के परिजनों के इसके खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद पुलिस ने 3 आरोपियों में से एक को गिरफ्तार कर लिया है।

भारतीय महिला हॉकी टीम ने इतिहास रचते हुए टोक्यो ओलंपिक में सेमीफाइनल में प्रवेश किया था तो देशभर में जश्न का माहौल था। कल जब टीम के शानदार खेल के बावजूद मैच में हार हो गई तो देशभर में निराशा छा गई थी और वंदना के गांव में भी गम का माहौल था। मगर हरिद्वार में हॉकी टीम की सुपर स्टार खिलाड़ी वंदना कटारिया के पड़ोस में कुछ शरारती तत्वों को टीम की हार में भी खुशियां मिल रही थीं और जातिवाद नजर आ रहा था।

जब मैच के शुरुआती दो मिनट में वंदना के मूव पर मिले पेनल्टी कॉर्नर को कुलजीत कौर ने जैसे ही गोल में बदला तो सभी खुशी से झूम उठे थे, मगर वंदना के पड़ोस में सन्नाटा पसर गया था। इसके बाद जब टीम इंडिया मैच हार गई तो उन्हीं पड़ोसियों के घर में खुशियां मनाई जा रही थीं और पटाखे फोड़े जा रहे थे।
webdunia

आरोप है कि ये पड़ोसी दलित समाज से ताल्लुक रखने वाली वंदना पर जातिसूचक शब्दों के जरिए हमला कर उसे टीम की हार के लिए जिम्मेदार ठहरा रहे थे। वंदना के भाई ने पुलिस में इसकी शिकायत की। वंदना के भाई का आरोप है कि उनसे ईर्ष्या रखने वाले उनके कुछ पड़ोसियों ने हार की खुशियां मनाते हुए न केवल आतिशबाजी की, बल्कि वंदना और परिवार के खिलाफ जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए गाली-गलौच भी की।
ALSO READ: भारतीय हॉकी टीम के इस कारनामे पर महान ध्यानचंद जहां भी होंगे खुश होंगे
आरोप है कि पड़ोसियों ने वंदना को दलित समाज की बताते हुए दलितों को टीम की हार का जिम्मेदार बताया।भारतीय महिला हॉकी टीम की हार पर वंदना के पड़ोसियों द्वारा खुशियां मनाने व पटाखे फोड़ने के बाद गांव में हंगामा हो गया। वंदना के परिजनों की शिकायत के बाद मौके पर पुलिस भी पहुंची।
ALSO READ: स्वर्णिम युग से पदक के सूखे और उसके अंत तक, 1928 से 2021 तक ऐसा रहा भारतीय हॉकी का सफर
पुलिस ने बमुश्किल लोगों को शांत कराया और वंदना के भाई की शिकायत पर सिडकुल थाने में धारा 504 और एससी एसटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Tokyo Olympics: पहलवान दीपक पुनिया के हाथ से फिसला कांस्य पदक