Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

UP : फिर बाहर आया जिन्ना का 'जिन्न', अखिलेश यादव ने बताया आजादी का नायक, BJP बोली- इतना नीचे मत गिरो

webdunia
सोमवार, 1 नवंबर 2021 (15:55 IST)
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने रविवार को हरदोई की एक जनसभा में मोहम्मद अली जिन्ना को आजादी का नायक बताया। भारत की आजादी के लिए उनके योगदान की सराहना की थी। सपा प्रमुख ने कहा कि 'सरदार वल्लभभाई पटेल, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और (मोहम्मद अली) जिन्ना ने एक ही संस्थान से पढ़ाई की और बैरिस्टर बने और उन्होंने आजादी दिलाई।

उन्हें आजादी के लिए किसी भी तरीके से संघर्ष करना पड़ा होगा तो पीछे नहीं हटे। अखिलेश यादव ने राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ का नाम लिए बिना कहा कि अगर कोई विचारधारा (आरएसएस की) है जिस पर प्रतिबंध लगाया गया था तो वे लौह पुरुष सरदार पटेल थे जिन्होंने प्रतिबंध लगाने का काम किया था। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि आज, जो लोग देश को एकजुट करने की बात कर रहे हैं, वे आपको और मुझे जाति और धर्म के आधार पर विभाजित कर रहे हैं।
 
भाजपा ने साधा निशाना : भाजपा ने पाकिस्तान के पहले गवर्नर जनरल मोहम्मद अली जिन्ना की सराहना करने पर समाजवादी पार्टी के प्रमुख व उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की तीखी आलोचना की। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने ट्वीट किया कि सरदार पटेल की जयंती पर अखिलेश यादव मोहम्‍मद अली जिन्ना का गुणगान क्यों कर रहे हैं।
 
मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के जल शक्ति मंत्री डॉक्टर महेंद्रसिंह ने रविवार को अखिलेश यादव का वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया 'सरदार वल्लभ भाई पटेल जी की जयंती के अवसर पर भी इनको अपने आदर्श 'जिन्‍ना' याद आ ही गए।'

भाजपा के राज्‍यसभा सदस्‍य और उत्‍तर प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक बृजलाल ने एक वीडियो जारी कर कहा कि 'सपा मुखिया अखिलेश यादव ने लौह पुरुष की तुलना जिन्ना से की है, अखिलेश यादव को पहले इतिहास पढ़ लेना चाहिए।

जिन्ना ने हजारों हिंदुओं का कत्लेआम कराया और वे देश के बंटवारे के जिम्मेदार हैं। भाजपा सांसद ने कहा अखिलेश यादव सरदार पटेल की जयंती के एक दिन पहले आपके पिताजी (मुलायम सिंह यादव) ने 30 अक्टूबर, 1990 को अयोध्या में रामभक्तों पर गोली चलवाई थी, मां सरयू का आंचल लाल हो गया था। यादव को लक्ष्य कर उन्होंने कहा कि तुष्टिकरण में इतना नीचे मत गिरो।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

UP Election 2022 : अखिलेश यादव ने किया बड़ा ऐलान, नहीं लड़ेंगे विधानसभा चुनाव