Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia

बदलने वाले हैं ATM से पैसे निकालने के नियम, लॉकडाउन में बढ़े बैंकिंग फ्रॉड के मामले

webdunia
बुधवार, 16 सितम्बर 2020 (15:10 IST)
कोरोना महामारी में लॉकडाउन में ऑनलाइन बैंकिंग के फ्रॉड के मामलों में भी बढ़ोतरी हुई है। ATM की धोखधड़ी भी बढ़ी है। ATM में धोखधड़ी को रोकने के लिए देश के सबसे बड़े सार्वजनिक बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने बड़ा कदम उठाया है। एसबीआई ने OTP बेस्ड एटीएम कैश विदड्रॉल सुविधा को 24×7 लागू करने का फैसला किया है। 18 सितंबर से यह सुविधा देशभर के एसबीआई एटीएम पर लागू हो जाएगी। एसबीआई की देशभर में 22 हजार से ज्यादा ब्रांच हैं। एसबीआई की मौजूदगी 30 से ज्यादा देशों में है। SBI के 6.6 करोड़ से ज्यादा ग्राहक मोबाइल बैंकिंग और ATM की सुविधा का प्रयोग करते हैं।
दिन में लागू हो जाएगा नियम : बैंक ने 1 जनवरी से ओटीपी का यह नियम लागू किया था। एसबीआई के एटीएम से 10 हजार रुपए या इससे अधिक की रकम निकालने पर दिन में भी ओटीपी की जरूरत होगी। इससे पहले तक रात में 8 बजे से सुबह 8 बजे 10 हजार रुपए या इससे अधिक राशि निकालने पर ही ओटीपी की जरूरत होती थी।
 
OTP के बिना नहीं निकाल सकेंगे रुपए : अब 18 सितंबर से अगर आप 10 हजार या इससे ज्यादा पैसे निकालने एटीएम जाते हैं तो अब आपके पास कार्ड एंटर करने और अमाउंट डालने के बाद बैंक की तरफ से रजिस्टर्ड मोबाइल पर एक ओटीपी आएगा। इस ओटीपी को डेबिट कार्ड की पिन के साथ डालना होगा, तभी आप एसबीआई के एटीएम से पैसे निकाल पाएंगे।
बैंक ने कहा कि 24x7 ओटीपी-आधारित कैश विड्रॉल की सुविधा से सुरक्षा स्तर को और ज्यादा मजबूती मिलेगा। दिनभर इस सुविधा को लागू करने से एसबीआई डेबिट कार्डधारक धोखेबाजों, अनधिकृत निकासी, कार्ड स्कीमिंग, कार्ड क्लोनिंग और इसी प्रकार के अन्य जोखिमों से बचा जा सकेगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Inside story :फिर अंडे पर भारी पड़ी सियासत,कुपोषित बच्चों को अंडा नहीं,दिया जाएगा दूध