Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

UP: 2 भाइयों का विवाद सुलझाने गए दरोगा को मारी गोली, मौत, CM योगी ने दिए कड़ी कार्रवाई के निर्देश, परिवार को 50 लाख की सहायता

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share

अवनीश कुमार

गुरुवार, 25 मार्च 2021 (01:25 IST)
आगरा। उत्तरप्रदेश के थाना खंदौली क्षेत्र के एक गांव में बुधवार देर रात भाइयों के बीच हो रहे विवाद की सूचना पर पहुंची पुलिस टीम पर हुए हमले में दरोगा प्रशांत की मृत्यु की जानकारी मिलते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए परिवार की हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया है।

पुलिस को कड़े निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आरोपी पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। आगरा में पुलिस पर हुए हमले के दौरान हमले में दरोगा प्रशांत की मृत्यु की जानकारी होते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्विटर के माध्यम से बयान जारी करते हुए कहा है कि जनपद आगरा की दुर्भाग्यपूर्ण घटना में सब इंस्पेक्टर प्रशांत यादव जी के निधन का समाचार अत्यंत दुःखद है।

दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं और दुःख की इस घड़ी में सरकार द्वारा उन्हें हरसंभव सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। घटनास्थल पर पहुंचे आगरा एडीजी जोन राजीव कृष्ण ने घटनास्थल का निरीक्षण करते हुए पत्रकारों को बताया कि उत्तरप्रदेश सरकार की तरफ से शहीद दारोगा प्रशांत यादव के आश्रित स्वजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। परिवार के किसी एक सदस्य को सरकारी सेवा में लिया जाएगा और मृतक दारोगा को शहीद का दर्जा देते हुए उसके पैतृक गांव की सड़क का नाम शहीद के नाम पर रखा जाएगा।
गौरतलब है कि बुधवार की देर रात आगरा के थाना खंदौली पुलिस को गांव नहर्रा में विश्वनाथ की अपने भाई शिवनाथ से आलू के बंटवारे को लेकर विवाद की सूचना मिली थी। दारोगा प्रशांत, सिपाही चंद्रसेन व एक अन्य सिपाही के साथ गांव पहुंचे थे। लेकिन इस दौरान विश्वनाथ गांववालों को भी तमंचे से धमका रहा था। दरोगा प्रशांत ने विश्वनाथ को रोकने का प्रयास किया, लेकिन विश्वनाथ ने दरोगा प्रशांत की एक भी बात में सुनी और सीधे दरोगा प्रशांत के पर गोली चला दी।

गोली लगते ही दरोगा प्रशांत जमीन पर गिर पड़े और ये देख जब सिपाही विश्वनाथ को पकड़ने के लिए बढ़े तो विश्वनाथ ने सिपाहियों पर भी गोली चला दी और मौके से फरार हो गया। थोड़ी देर के बाद मौके पर पुलिस के आला अधिकारियों के साथ भारी पुलिस फोर्स भी पहुंच गया और लहूलुहान हालत में जमीन पर पड़े दरोगा प्रशांत को तत्काल खंदौली सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया।

डॉक्टरों ने दरोगा प्रशांत को मृत घोषित कर दिया। दरोगा प्रशांत की मौत की जानकारी मिलते ही मौके पर एडीजी राजीव कृष्ण व एसएसपी बबलू कुमार मौके पर पहुंचे थे।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
लोकसभा के बाद राज्यसभा में भी NCT बिल पास, आम आदमी पार्टी ने कहा- केजरीवाल से डरकर बिल लाई केंद्र सरकार