Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

हिजाब कभी चुनावी मुद्दा नही हो सकता, देश सर्वोपरि : रामदेव

हमें फॉलो करें webdunia

हिमा अग्रवाल

सोमवार, 14 फ़रवरी 2022 (14:41 IST)
धर्मनगरी हरिद्वार में मतदान करने पहुंचे योग गुरु बाबा रामदेव ने ओवैसी को नसीहत देते हुए कहा कि देश बहुत आगे निकल गया है, इसलिए हिजाब चुनावी मुद्दा नही हो सकता है।
 
रामदेव ने कहा कि ओवैसी साहब 18वीं शताब्दी की बात कर रहे हैं। कोई हिजाब पहने-न पहने, कोई टोपी पहने या न पहने, कोई चोटी-जनेऊ पहने या न पहने, दाढ़ी-मूंछ रखे या कटवा ले, लेकिन देश को न कटने-बिकने दें। देश आगे है, इसलिए ये छोटी-छोटी बाते हैं। तमाम सांप्रदायिक, धार्मिक मुद्दे हैं, लेकिन देश सबसे बड़ा है।
 
उन्होंने कहा कि देश तभी आगे बढ़ेगा जब हम धर्म जाति भूलकर एकजुट होंगे। बाबा बोले एकजुटता के लिए समाज के सभी हिन्‍दू, मुस्लिम, जैन, बौद्ध, सिख, इसाई वर्ग आगे बढ़ें।

उत्तराखंड में आज मतदान हो रहा है, सभी वर्ग के मतदाताओं में उत्साह दिखाई दे रहा है। हरिद्वार में बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण भी कनखल पोलिंग बूथ पर अपना मतदान करने पहुंचे, इसी दौरान उन्होंने मीडिया से रूबरू होते हुए सभी लोगों से वोट करने की अपील की।
 
योग गुरु रामदेव ने कहा कि देश हित सर्वोपरि है, इसलिए राष्ट्रहित और राष्ट्र धर्म में वोट करना अत्यंत आवश्यक है। देश से बड़ा कुछ भी नहीं है। हम वोट करेंगे तो देश बचेगा। हम वोट करेंगे तो लोकतंत्र बचेगा। हमें अपने अधिकार भी मिलेंगे। 
 
ओवैसी ने वोट करने जाने पर बुर्का या हिजाब पहनने की सलाह दी थी, इसी हिजाब प्रकरण पर बाबा ने ओवैसी को जबाव दिया और कहा कि हिजाब चुनावी मुद्दा बिल्कुल नहीं होना चाहिए।
 
उन्‍होंने कहा कि हम वोट करने के लिए मुद्दे देश में गरीबी, बेरोजगारी, महंगाई खत्‍म हो, आर्थिक समृद्ध‍ हो, आपसी भेदभाव मिटे, सामाजिक समरसता और देश में वैभव हो। इन बातों को आधार बनाकर मतदान होना चाहिए।

रामदेव ने कहा कि हम सपना देखते हैं कि भारत विश्‍वगुरु बने और आने वाले 15-20 सालों में विश्‍व की सबसे बड़ी आर्थिक, आध्‍यात्मिक, सामाजिक, राजनैतिक महाशक्ति बने। यह सपना तभी साकार होगा जब हम अपनी वोट की ताकत को पहचानेंगे और घरों से निकलकर मतदान करेंगे।
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Assembly Elections 2022 : यूपी, उत्तराखंड, गोवा में सियासत का संग्राम, मतदान जारी (लाइव अपडेट)