जानें, विदेशों में फंसे भारतीयों के लिए RESCUE FLIGHTS FROM INDIA वाले गूगल फॉर्म का पूरा सच

बुधवार, 6 मई 2020 (12:01 IST)
कोरोना वायरस के चलते विदेशों में फंसे भारतीयों की वापसी के लिए ‘वंदे भारत मिशन’ की शुरुआत 7 मई से होने जा रही है। इस बीच सोशल मीडिया पर विदेशों में फंसे भारतीयों के लिए ‘RESCUE FLIGHTS FROM INDIA’ नामक एक गूगल फॉर्म के लिंक वाला मैसेज काफी वायरल हो रहा है। इस मैसेज में यूएसए, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया समेत अन्य देशों में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए रजिस्ट्रेशन लिंक दिए गए हैं।

क्या है सच-

भारत सरकार की प्रेस इंर्फोमेशन ब्यूरो (PIB) ने इस मैसेज को फेक बताते हुए लोगों से सावधान रहने की अपील की है। पीआईबी फैक्ट चेक के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट में लिखा गया है- ‘भारत सरकार द्वारा इस तरह का कोई भी गूगल फॉर्म जारी नहीं किया गया है। इन लिंक्स पर क्लिक न करें और आधिकारिक एंबेसी वेबसाइट के जरिए ही रजिस्ट्रेशन करें।

Claim:A whatsapp message is circulating with links to Google Forms titled 'RESCUE FLIGHTS FROM INDIA', for stranded Indians.#PIBFactCheck: Indian Govt has not issued any such forms. It's advised not to click on these links & to register only through the official Embassy website pic.twitter.com/ZEjtxhzqMq

— PIB Fact Check (@PIBFactCheck) May 5, 2020


बता दें, मोदी सरकार ने विदेशों में फंसे भारतीयों की घर वापसी के लिए मेगा प्लान बनाया है। पहले चरण में 7 दिनों में कुल 14800 लोगों को देश वापस लाया जाएगा। यूएई, सऊदी अरब, कतर, ब्रिटेन, सिंगापुर, मलेशिया, अमेरिका, फिलीपींस, बांग्लादेश, बहरीन, कुवैत और ओमान जैसे देशों में फंसे भारतीयों को भारत वापस लाया जाएगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख ओडिशा में कोरोना वायरस से दूसरी मौत, मामले बढ़कर हुए 177