Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

बंगाल चुनाव : तीसरे चरण की 31 सीटों पर थमा चुनाव प्रचार, 6 अप्रैल को मतदान में 205 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला

webdunia
रविवार, 4 अप्रैल 2021 (22:24 IST)
कोलकाता। भाजपा के वरिष्ठ नेता स्वपन दासगुप्ता, तृणमूल कांग्रेस मंत्री आशिमा पात्रा और माकपा नेता कांति गांगुली उन 205 उम्मीदवारों में शामिल हैं, जिनके लिए पश्चिम बंगाल में 31 सीटों पर तीसरे चरण के चुनाव के लिए प्रचार रविवार शाम को समाप्त हो गया।
इस चरण में, ग्रामीण हावड़ा, दक्षिण 24 परगना में सुंदरबन क्षेत्र, डायमंड हार्बर और बरुईपुर क्षेत्र और हुगली जिले के कुछ हिस्सों में मतदान होगा। 6 अप्रैल को होने वाले चुनाव के लिए प्रचार शाम 5 बजे समाप्त हुआ।
 
भाजपा के अभियान का नेतृत्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया, जिन्होंने इन तीन जिलों में कई जनसभाओं को संबोधित किया। इसके अलावा, गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने इन क्षेत्रों में पिछले कुछ दिनों में रैलियां की और रोड-शो किए।
 
तृणमूल कांग्रेस के प्रचार का नेतृत्व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने किया, वहीं टीएमसी सांसद और उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी ने भी कई रैलियों को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने अपनी रैलियों में, तृणमूल कांग्रेस सरकार पर 'तुष्टीकरण की राजनीति' को लेकर हमला किया और अन्य भाजपा नेताओं ने अम्फान तूफान के बाद राहत उपलब्ध कराने में कथित अनियमितताओं सहित जमीनी स्तर के भ्रष्टाचार के मुद्दे को उठाया।
दूसरी तरफ मुख्यमंत्री ने उन नेताओं को निशाने पर लिया जिन्होंने उनकी पार्टी को चुनावों से पहले भाजपा में शामिल होने के लिए छोड़ दिया। उन्होंने लोगों से 'गद्दारों' के खिलाफ वोट करने का आग्रह किया। उन्होंने ईंधन की बढ़ती कीमतों और अर्थव्यवस्था की स्थिति को लेकर भी केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार पर हमला किया।
 
वाम नेतृत्व वाले गठबंधन ने मोदी और बनर्जी की बड़ी रैलियों का मुकाबला करने के लिए कोई बड़ा चेहरे नहीं होने के चलते छोटी सभाओं और घर-घर प्रचार पर अधिक ध्यान केंद्रित किया। हालांकि, आईएसएफ संस्थापक अब्बास सिद्दीकी की जनसभाओं में भीड़ जुटी जिसमें मुस्लिमों की अधिक संख्या शामिल थी।
 
कुल 78,52,425 मतदाता 31 सीटों पर 205 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। इनमें से 39,93,280 पुरुष, 38,58,902 महिलाएं और 243 तीसरे लिंग के मतदाता हैं। कुल मिलाकर, 31 विधानसभा क्षेत्रों में 10,871 मतदान केंद्र बनाए गए हैं जहां सुबह 7 से शाम 6.30 बजे तक मतदान होगा।
 
चुनाव आयोग के सूत्रों ने कहा कि इस चरण में केंद्रीय बलों की कम से कम 618 कंपनियों को तैनात किया जाएगा और सभी बूथों की पहचान 'संवेदनशील' के रूप में की गई है।
चुनाव आयोग ने दक्षिण 24 परगना के तीन पुलिस जिलों बरुईपुर, डायमंड हार्बर और सुंदरबन में 5,544 बूथों के लिए केंद्रीय बलों की सबसे अधिक 396 कंपनियां आवंटित की हैं। हुगली में केंद्रीय बलों की 166 कंपनियां और हावड़ा के ग्रामीण इलाकों में 133 कंपनियां होंगी। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

नक्सली हमला : अमित शाह के घर 1 घंटे हुई उच्चस्तरीय बैठक, CRPF और गृह मंत्रालय के अधिकारी रहे मौजूद