Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

एशियाई खेलों में दूसरे दर्जे की फुटबॉल टीम में सुनील छेत्री ही बड़ा नाम, कोच ने क्लब को कोसा

हमें फॉलो करें webdunia
, सोमवार, 18 सितम्बर 2023 (17:01 IST)
अनुभवी स्ट्राइकर सुनील छेत्री हांगझोउ एशियाई खेलों के लिये चुनी गई दूसरे दर्जे की भारतीय टीम में एकमात्र जाना माना नाम है जबकि मुख्य कोच इगोर स्टिमक का जाना अभी तय नहीं है।अधिकांश क्लबों ने 21 सितंबर से शुरू हो रही एशियाई खेलों की फुटबॉल स्पर्धा के लिये भारतीय टीम में चुने गए 22 खिलाड़ियों को रिलीज करने को लेकर अनिच्छा जताई है क्योंकि उसी दौरान आईएसएल भी खेला जाना है।

इस हफ्ते के शुरु में भारतीय टीम की एशियाड तैयारियों को बड़ा झटका लगा था क्योंकि आईएसएल के क्लब राष्ट्रीय टीम के कई मुख्य खिलाड़ियों को एशियाई खेलों के लिए रिलीज करने से इनकार कर रहे थे।पिछले महीने 22 खिलाड़ियों की टीम घोषित की गयी थी लेकिन 13 खिलाड़ियों को उनके क्लबों ने रिलीज ही नहीं किया था जिसमें झिंगन और गोलकीपर के रूप में पहली पसंद गुरप्रीत सिंह संधू भी शामिल थे।चीन रवानगी से तीन दिन पहले ही टीम का ऐलान हो सका।

स्टिमक ने ISl आयोजकों पर तंज कसा, कहा कुछ लोगों ने हमें एशियाड में सर्वश्रेष्ठ टीम ले जाने से रोका

भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच इगोर स्टिमक ने इंडियन सुपर लीग (ISL) के आयोजक फुटबॉल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट लिमिटेड (FSDL) और क्लबों की एशियाई खेलों के लिए अपने खिलाड़ियों को रिलीज नहीं करने के लिए कड़ी आलोचना की।

स्टिमक ने टीम की रवानगी से पहले वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में किसी का नाम नहीं लिया लेकिन इसके पर्याप्त संकेत दिए कि एशियाई खेलों में मजबूत टीम ले जाने की उनकी और अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (AIFF) की योजनाओं पर किसने पानी फेरा।
webdunia

स्टिमक ने कहा,‘‘अगर मुझे पता होता कि कुछ तत्व हमें अपनी सर्वश्रेष्ठ संभावित टीम को ले जाने से रोकेंगे तो फिर मैं आई लीग से सभी खिलाड़ियों का चयन करता तथा उनके साथ दो महीने तक अभ्यास करने का आग्रह करता और एशियाई खेलों के लिए तैयारी करने को कहता।’’

आईएसएल के क्लबों ने अपने खिलाड़ियों को एशियाई खेलों में खेलने के लिए मंजूरी नहीं दी जबकि इस टूर्नामेंट के आयोजक एफएसडीएल ने लीग को कुछ दिन बाद शुरू करने के आग्रह पर गौर नहीं किया। ऐसे में आनन-फानन में टीम तैयार की गई।

स्टिमक ने बताया कि टीम को एक भी अभ्यास सत्र के बिना मंगलवार को चीन के खिलाफ अपना पहला मैच खेलना होगा।उन्होंने कहा,‘‘ हमें रात को हांगकांग के लिए रवाना होना है तथा वहां से हांगझोउ के लिए उड़ान पकड़ने से पहले पांच-छह घंटे इंतजार करना होगा। हम सोमवार की शाम को पांच बजे हांगझोउ पहुंचेंगे और एक भी अभ्यास सत्र के बिना अगले दिन हमें मैच खेलना है।’’

स्टिमक ने कहा,‘‘ हम हवाई अड्डे पर और उड़ान के दौरान खिलाड़ियों से अपनी रणनीति पर चर्चा करेंगे ताकि वे वहां पहुंचने के बाद जितना संभव हो सके विश्राम करें और मैच से पहले अच्छी नींद लें।’’

स्टिमक इस बात को लेकर आश्वस्त नहीं हैं कि टीम कैसा प्रदर्शन करेगी लेकिन उन्हें उम्मीद है कि टीम नॉकआउट चरण में जगह बनाने में सफल रहेगी।उन्होंने कहा,‘‘ इस पर सवालिया निशान लगा है कि यह टीम एक दिन भी साथ में नहीं बिताने के बावजूद कैसा प्रदर्शन करेगी। टीम में शामिल 5-6 खिलाड़ियों ने आईएसएल मैच नहीं खेले हैं और अधिकतर ने मेरे साथ काम नहीं किया है।’’

स्टिमक ने कहा,‘‘ हम इस टूर्नामेंट को उम्मीद के तौर पर देख रहे हैं और हमारे ग्रुप चरण से आगे बढ़ने की संभावना है लेकिन इसके लिए हमें भाग्य की जरूरत भी पड़ेगी। इसके साथ ही खिलाड़ियों को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी करना होगा।’(भाषा)
 


एशियाड के लिए भारतीय पुरुष टीम:

गोलकीपर: गुरमीत सिंह, धीरज सिंह मोइरांगथेम।

डिफेंडर: सुमित राठी, नरेंद्र गहलोत, दीपक टांगरी, संदेश झिंगन, चिंग्लेनसाना सिंह, लालचुंगनुंगा।

मिडफील्डर: अमरजीत सिंह कियाम, सैमुअल जेम्स लिंगदोह, राहुल केपी, अब्दुल रबीह, आयुष देव छेत्री, ब्राइस मिरांडा, अजफर नूरानी, विन्सी बरेतो।

फॉरवर्ड: सुनील छेत्री, रहीम अली, रोहित दानू, गुरकीरत सिंह, अनिकेत जाधव।

मुख्य कोच: इगोर स्टिमक

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Asia Cup ने दे दिए World Cup के सारे सवालों के जवाब, टीम अब लग रही है दमदार