वृषभ संक्रांति : सूर्य ने बदल लिया है घर, हम सब पर हो रहा है असर

sun transit in Taurus

 
 सूर्य के राशि परिवर्तन को संक्रांति कहा जाता है। मेष राशि से वृषभ राशि में सूर्य का संक्रमण वृषभ संक्रांति कहलाता है जो 14 मई 2020 को शाम 5 बजकर 33 मिनट पर हो गया है। 
 
वृषभ राशि में गोचर कर रहे सूर्य किस राशि के लिए लाभदायक हैं और किसके लिए हानिकारक,आइए जानते हैं...
 
वृषभ राशि में हुआ सूर्य का परिवर्तन जानें अपना राशिफल
 
मेष : सूर्य का राशि परिवर्तन धन भाव में होने से यह समय आपके लिए शुभ रहने के आसार हैं। सूर्य आपके लिए धन प्राप्ति के योग बना रहा है। करियर के मामले में भी आपके लिए उन्नति  के योग बन रहे हैं। 
वृषभ : सूर्य ने आपकी राशि में ही प्रवेश किया है जिससे आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा हालांकि अपनी सेहत के प्रति आपको सचेत रहने की आवश्यकता है। जो लोग डेस्क जॉब में हैं उन्हें शानदार परिणाम भी मिल सकते हैं। कृषि एवं मार्केटिंग वालों के लिये भी अच्छा समय है।

मिथुन : 12वें भाव में सूर्य आपके लिए धन हानि के संकेत कर रहे हैं। इस समय आपको अपने खर्चों पर नियंत्रण रखना होगा। आप कुछ यात्राएं करने की योजना बना सकते हैं। इस समय अपनी सेहत का ध्यान अवश्य रखें विशेषकर स्किन व गले संबंधी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

कर्क : आपकी राशि से सूर्य ने लाभ स्थान में प्रवेश किया है। इस समय आप धन लाभ की उम्मीद कर सकते हैं, साथ ही आपके मान-सम्मान में भी वृद्धि होने के आसार हैं। नया व्यवसाय, नई नौकरी शुरु करने के अवसर मिल सकते हैं। 

सिंह : इस समय आप आत्मविश्वास से लबरेज रह सकते हैं। वरिष्ठ अधिकारियों से भी आपको अपने कार्य के लिए प्रशंसा सुनने को मिल सकती है। जो जातक नौकरी बदलने के इच्छुक हैं उन्हें बेहतर अवसर मिल सकते हैं। 

कन्या : सूर्य का यह परिवर्तन आपके भाग्य स्थान में होने से भाग्योन्नति के संकेत हैं। पूर्व में यदि आप किसी छोटी-मोटी शारीरिक अस्वस्थता से जूझ रहे हैं तो उससे निजात मिल सकती है। आत्मबल मजबूत बना रहेगा। पैतृक संपत्ति से भी आपको लाभ मिलने के आसार हैं। 

तुला : आपके लिए सूर्य का वृषभ में प्रवेश शुभ संकेत नहीं है। अष्टम भाव के सूर्य आपके मनोबल में कमी के संकेत कर रहे  हैं। तन-मन और धन यानि हर तरफ से आपको सावधान रहने की आवश्यकता है। घर से लेकर दफ्तर तक किसी से भी उलझने का प्रयास न करें।

वृश्चिक : सप्तम भाव में सूर्य का राशि परिवर्तन होने से परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। विशेषकर अपने प्रेमजीवन के प्रति आपको अतिरिक्त सावधान रहने की जरुरत है। अपने साथी के साथ मतभेद पैदा हो सकते हैं। 

धनु :  यह परिवर्तन मिले जुले परिणाम लेकर आ सकता है। इस समय आपको सफलता पाने के लिए काफी पसीना बहाने की आवश्यकता रहेगी। अथक मेहनत के बावजूद अपेक्षित परिणाम न मिलने से निराशा का भाव भी आपमें उत्पन्न हो सकता है। 

मकर : सूर्य का पंचम भाव में परिवर्तन आपके लिए शुभ है। विशेषकर संतान पक्ष की ओर से आपको कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। कार्यक्षेत्र में आपके मान-सम्मान में वृद्धि होने के आसार हैं। धन प्राप्ति के योग भी बन रहे हैं। राजनीति से जुड़े जातकों के लिए भी समय अच्छा है। स्वास्थ्य लाभ मिलने के आसार हैं।

कुंभ : सुख भाव में सूर्य का आना माता की सेहत को लेकर आपकी चिंता बढ़ा सकता है। हालांकि दोस्तों परिजनों की मदद से आपको राहत मिलेगी। जो जातक लंबे समय से वाहन खरीदने के लिए प्रयासरत हैं वे नई गाड़ी लेकर घर आ सकते हैं। स्वास्थ्य व रोमांटिक लाइफ भी बेहतर बनी रहने के आसार हैं।

मीन : यह समय आपके पराक्रम में वृद्धि करने वाला है। अपने भाई-बहनों के साथ भी आपके संबंध बेहतर रहने की उम्मीद है। पिता द्वारा मान-सम्मान मिल सकता है। कुल मिलाकर भाग्य की अगर बात की जाए आपके लिये सूर्य का यह परिवर्तन सौभाग्यशाली रहने के आसार हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 24th day of ramadan 2020 : चौबीसवें रोजे की महिमा बताता है यह दिन