विदेश यात्रा पर जाने का मन है, नहीं बन रहे हैं योग तो यह सरल साधना आपके लिए है

अखंड लक्ष्मी साधना प्रयोग हर प्रकार की सफलता, उन्नति, भाग्योदय एवं विशेष रूप से विदेश यात्रा जैसी मनोकामना पूर्ति के लिए किया जाता है। प्रस्तुत प्रयोग मात्र तीन दिन का है। 
 
विधि : 
इसे किसी भी बुधवार को प्रारंभ करें। प्रा‍त:काल स्नानादि से शुद्ध होकर पूर्व दिशा में किसी पात्र में अखंड लक्ष्मी यंत्र रख दें। 
 
यंत्र की भी जल-दूध से शुद्धि करें। उस पर केसर का तिलक करें। तत्पश्चात् स्फटिक की माला से निम्न मंत्र का जाप करें। इस मंत्र की प्रतिदिन 11 मालाएं जपना अनिवार्य है। तीन दिन तक 11 मालाएं फेरने से मंत्र और यंत्र दोनों सिद्ध हो जाएंगे। 
 
इस यंत्र को किसी स्वच्छ स्थान पर या तिजोरी में रखें। विदेश यात्रा के योग टल रहे होंगे तो शीघ्र ही बनेंगे। 
 
।। मंत्र : ॐ ह्रीं अष्टलक्ष्म्यै नम:।।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख पाक्षिक-पंचांग : कई खास त्योहार आएंगे चैत्र शुक्ल पक्ष में, जानिए त्योहारों की सूची