Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

BMW इस साल भारत में 25 नई गाड़ियों को करेगी लांच, 8 ऑल-न्यू प्रोडक्ट के साथ शामिल होंगे कुछ फेसलिफ्ट वैरिएंट

हमें फॉलो करें webdunia
गुरुवार, 21 जनवरी 2021 (16:50 IST)
जर्मनी की लक्जरी कार निर्माता बीएमडब्ल्यू (BMW) ने कोरोनावायरस महामारी के सबसे बुरे दौर को पीछे छोड़ते हुए इस साल भारत में 25 नए उत्पाद पेश करने की योजना बनाई है। इसमें 8 ऑल-न्यू प्रोडक्ट के साथ कुछ फेसलिफ्ट वैरिएंट शामिल होंगे।
 
कंपनी को उम्मीद है कि इस साल वह भारत में दो अंक की वृद्धि हासिल करेगी। कंपनी ने गुरुवार को अपनी बीएमडब्ल्यू 3 सीरीज की ग्रैन लिमोसिन को भारतीय बाजार में लांच किया है। इसकी शोरूम कीमत 51.5 लाख से 53.9 लाख रुपए है।

क्या हैं फीचर्स : बीएमडब्ल्यू 3 सीरीज की ग्रैन लिमोसिन में 2.0 लीटर पेट्रोल और डीजल इंजन का विकल्प दिया गया है। इसमें इसका 2.0 लीटर इन-लाइन फोर-सिलेंडर टर्बो पेट्रोल इंजन 255 बीएचपी की पावर और 400 एनएम का पीक टॉर्क बनाता है जबकि टर्बोचार्ज्ड डीजल पॉवरप्लांट 400 एनएम के साथ 188 बीएचपी पर सीमित है। दोनों इंजन पैडल शिफ्टर्स के साथ आठ-स्पीड स्टेपट्रॉनिक ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन से लैस हैं।

बीएमडब्ल्यू 3 सीरीज ग्रैन लिमोसिन का पेट्रोल वैरिएंट 15.3 किमी प्रति लीटर और बीएमडब्ल्यू 320 एलडी डीजल वैरिएंट 19.62 किमी प्रति लीटर माइलेज देने में सक्षम है। यह कार 6.2 सेकंड में 100 किमी प्रतिघंटा की स्पीड तक जा सकती है।

डिजाइन में लंबाई के रूप में एकमात्र अंतर देखने को मिलता है। इस कार का व्हीलबेस नियमित मॉडल की तुलना में 110 मिमी लंबा है, जो इसे सेगमेंट में सबसे लंबी सेडान बनाता है। लंबे व्हीलबेस के चलते रियर सीट पर बैठे यात्रियों को 43 मिमी का अधिक लेगरूम मिलता है।  इसमें 480 लीटर बूट स्पेस लंबी यात्रा के लिए एकदम परफेक्ट दिया गया है।
 
कंपनी का अनुमान है कि महामारी के चलते लोग निजी वाहनों को अधिक तरजीह देंगे और अंतराष्ट्रीय यात्रा तथा सैर-सपाटे में कमी के चलते लक्जरी कारों की मांग बढ़ेगी। भारत में बीएमडब्ल्यू समूह के अध्यक्ष विक्रम पवाह ने कहा कि जहां तक ​​हमारे कारोबार की बात है, कोरोनावायरस का सबसे बुरा दौर पीछे छूट चुका है।
webdunia
हमने देखा कि 2020 में व्यापार बंद था... हमें उम्मीद है कि पिछले साल लगभग 8 महीनों की तुलना में इस साल पूरे 12 महीने परिचालन होगा। मांग भी बढ़ रही है।

उन्होंने बताया कि पिछले साल नवंबर-दिसंबर के दौरान कंपनी अपने कोविड-पूर्व के स्तर को हासिल करने में सफल रही थी। इस साल कंपनी की वृद्धि संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बिक्री में 10 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद जताई।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अगर एक घंटे में खा गए ये ‘जम्‍बों थाली’ तो इनाम में रॉयल एन्‍फील्‍ड की ‘बुलेट फ्री’