कोरोना काल में गिरी ऑटोमोबाइल कंपनियों की बिक्री, जानिए कौनसी कंपनी ने बेची कितनी कारें...

सोमवार, 1 जून 2020 (16:51 IST)
नई दिल्ली। वाहन बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) ने सोमवार को कहा कि मई महीने में उसकी बिक्री 86.23 प्रतिशत घटकर 18,539 इकाई रही। कंपनी ने पिछले साल इसी महीने में 1,34,641 वाहन बेचे थे।

एमएसआई के अनुसार उसकी घरेलू बिक्री मई में 88.93 प्रतिशत घटकर 13,888 इकाई रही जो पिछले साल इसी महीने में 1,25,552 इकाई थी। कंपनी ने पिछले महीने में 4,651 वाहनों का निर्यात किया, जो मई 2019 के 9,089 इकाइयों के मुकाबले 48.82 प्रतिशत कम है।

वाहन कंपनी ने कहा कि उसने ‘लॉकडाउन’ के बाद सरकार के नियमों एवं दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करते हुए 12 मई से मानेसर कारखाने में और 18 मई से गुड़गांव संयंत्र में विनिर्माण कार्य शुरू कर दिया।

सुजुकी मोटर गुजरात में भी उत्पादन 25 मई से शुरू हो गया है। कंपनी अनुबंध आधार पर मारुति सुजुकी के लिए कार बनाती है। एमएसआई ने कहा कि केंद्र और राज्यों के दिशानिर्देशों के अनुसार, कंपनी के शोरूम भी खुलने शुरू हो चुके हैं।

हुंडई की मई में वाहन बिक्री 79 प्रतिशत गिरी : हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड की कुल बिक्री मई में 78.7 प्रतिशत घटकर 12,583 वाहन रही। पिछले साल मई में कंपनी ने 59,102 वाहन बेचे थे।

कंपनी ने सोमवार को एक बयान में कहा कि मई में उसकी घरेलू बिक्री 83.8 प्रतिशत गिरकर 6,883 वाहन रही। इस अवधि में कंपनी ने 5,700 वाहन का निर्यात किया। मई 2019 में घरेलू बिक्री और निर्यात आंकड़ा क्रमश: 42,502 और 16,600 वाहन था।

कंपनी के बिक्री, विपणन और सर्विस निदेशक तरुण गर्ग ने कहा कि कंपनी 12,583 वाहनों की बिक्री के साथ धीरे-धीरे परिस्थितियों के सामान्य होने की दिशा में बढ़ रही है।

एमजी मोटर इंडिया ने मई में बेची 710 कार : एमजी मोटर इंडिया ने मई में कुल 710 कारों की बिक्री की। कोरोना वायरस (Corona virus) कोविड-19 महामारी की रोकथाम के लिए लॉकडाउन के चलते उसकी आपूर्ति व्यवस्था बाधित है।

कंपनी ने सोमवार को एक बयान में कहा कि उसने अपने हलोल संयंत्र में करीब 30 प्रतिशत क्षमता के साथ उत्पादन फिर शुरू कर दिया है। कंपनी के देशभर में करीब 65 शोरूम फिर खुल चुके हैं। हालांकि सभी जगह कम कार्यबल के साथ काम हो रहा है।
कंपनी के बिक्री निदेशक राकेश सिदाना ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से उसके कई डीलरशिप स्टोर खुले नहीं हैं। वहीं आपूर्ति श्रृंखला बाधित होने की वजह से भी बिक्री प्रभावित हुई है। अपने दूसरे चरण की विस्तार योजना के तहत कंपनी छह नए शहरों पुणे, सूरत, कोच्चि, चंडीगढ़, जयपुर और चेन्नई में जून 2020 से जेडएस ईवी उतार रही है।(भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख आयुष्मान भारत योजना में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले 4 गिरफ्तार