Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

रिजेक्ट एक्स 2 : नाजुक उम्र में बच्चों और माता-पिता की भूमिका

webdunia

रूना आशीष

रविवार, 17 मई 2020 (11:26 IST)
कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए इन दिनों देश में लॉकडाउन लगा हुआ है। लेकिन फिर भी काम ना रुके इसके लिए फिल्म और इंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के लोग हर वो काम कर रहे हैं जो मुमकिन है। ऐसे समय में 'रिजेक्ट एक्स 2' लोगों के सामने आ गया है।

 
हाल ही में इसकी प्रेस कॉन्फ्रेंस भी ऑन लाइन जूम एप के जरिए की गई। वेबदुनिया के साथ साथ कुछ चुनिंदा पत्रकारों को भी आमंत्रित किया गया। पेश हैं इस प्रेस कॉंफ़्रेंस के कुछ अंश... 
'रिजेक्ट एक्स 2' एक वेब सीरीज है जो एक स्कूल में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के बारे में बात करता है। इसमें मर्डर मिस्ट्री है और बहुत सारा मसाला भी है। इन दिनों बाइस लॉकरूम के बारे में बहुत पढ़ा लिखा गया है ऐसे में इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी इसकी बात हुई।

शो में आरव का किरदार निभाने वाले मुहम्मद वली का कहना था कि, ऐसी नाजुक उम्र में सबसे ज़्यादा जरूरी होता है कि माता-पिता बड़ी भूमिका निभाएं। वो इस बात का ध्यान रखें कि उनके बच्चे किस तरह के लोगों के साथ हैं या किस सोशल प्लेटफॉर्म पर हैं और किस तरह की बातें हो रही हैं।
 

webdunia
वहीं इस शो में हैरी की रोल निभाने वाले प्रभनीत सिंह का मानना है कि, हर बात माता-पिता से शुरु नहीं कर सकते। ये हमारे युवा वर्ग की भी ज़िम्मेदारी बनती है कि वो सोच समझ कर अपने दोस्तों को चुने क्योंकि इस उम्र में जो दोस्त कह देते हैं वो ही सब सच लगता है।

इसके अलावा जब पूछा गया कि क्या कलाकारों में से किसी ने भी बुलिंग जैसी बातों को झेला है तो निर्देशक गोल्डी बहल ने अपनी आपबीती बताई। गोल्डी ने कहा कि, वो फिल्मी परिवार से ताल्लुक रखते हैं तो परवरिश भी फिल्मी कलाकारों के बीच ही हुई। जब मैं और मेरा परिवार अजमेर शिफ्ट हुआ तो वहां सभी को मालूम पड़ा कि मुंबई से हूं तो सभी लोग मुझसे भेदभाव करने लगे।

 
वो कहते थे मैं तो मुंबई का हूं तो मुझे पढ़ने लिखने की क्या ज़रूरत। या कहते मेरे पिता और चाचा फिल्में बनाते हैं तो मुझे पढ़ाई पर इतना ध्यान नही देना चाहिए।
 
इसी विषय पर वेब सीरीज की कलाकार अनीशा विक्टर ने कहा कि, मैं आर्मी परिवार से आती हूं। हम लोगों को जहां भी पापा को पोस्टिंग मिलती थी वहीं जाना पड़ता था। ऐसे में कई बार नए स्कूल में जाना पड़ता था हम लोगों के लिए बुलिंग बहुत आम बात थी। मैं कई बार इसकी शिकार हुई हूं।
 
ये वेब सीरीज समलैंगिक संबंधों की भी बात कर रही है ऐसे में समलैंगिक लड़की का किरदार निभाने वाली सादिका का कहना था कि किरदार को बहुत आम बताया है। कही भी ऐसे लोगों की भावनाएं आहत ना हो इसका ध्यान रखा गया है। ये लड़की हिजाब पहनती है और एलजीबाटी कम्यूनिटी की है लेकिन कहीं कोई बढ़ चढ़ कर बातें नही की गईं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

लॉकडाउन में बेरोजगारी से परेशान हुआ टीवी एक्टर, फांसी लगाकर की आत्महत्या