जमीन पर बैठ कर देखी थी स्टूडेंट ऑफ द ईयर: अनन्या पांडे

जब 'स्टूडेंट्स ऑफ द ईयर' रिलीज हुई थी तो मैं 14 साल की थी। मुझे याद है कि फिल्म के प्रीमियर पर मम्मी-पापा जा रहे थे, लेकिन मैं नहीं जा सकती थी, क्योंकि ये रात का शो था और रात के शो मुझे देखने की इजाजत नहीं थी। फिर भी मैंने दोनों से बहुत मिन्नतें कीं तो दोनों मुझे अपने साथ लेकर गए प्रीमियर पर। सब सीटें भर गई थीं तो हमें जमीन पर बैठना पड़ा था। उस समय जब मैंने आलिया को देखा तो मैं देखती ही रह गई। मुझे लगा कि अब बड़े होकर मुझे तो ये ही करना है। मैंने इतनी प्रार्थना की कि कायनात ने मुझे ये मौका दे दिया कि मैं फिल्म के लिए ऑडिशन दूं। अभी भी यकीन नहीं हो रहा कि मैंने ये फिल्म कर ली है।
 
चंकी पांडे की बेटी अनन्या पांडे देखने में एकदम नाजुक सी हैं। हालांकि उनका कद 5 फीट 8 इंच है। अपनी पहली फिल्म 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2' के बारे में 'वेबदुनिया' को आगे बताते हुए अनन्या बताती हैं कि मैंने ऑडिशन में 2 सीन किए थे। एक इमोशनल सीन था और दूसरा एकदम प्रिंसेस वाला सीन किया था। ऑडिशन में उनको मेरा काम पसंद भी आया।
 
 

आपके पापा का क्या कहना था आपके एक्टिंग करियर को लेकर?
मेरे पापा और मम्मी को जब मैंने बचपन में एक्टिंग के बारे में बताया तो वे इसे सीरियसली लेते ही नहीं थे। वे बात टालते हुए कहते थे  कि 'हां देखेंगे।' एक बार स्कूल के किसी प्ले में उन्होंने मुझे एक्टिंग करते देखा तो कहा कि तुम्हें एक्टिंग करियर के बारे में सोचना चाहिए। जब धर्मा से मेरा रोल भी फाइनल हो गया तब भी हमने किसी को कुछ बताया नहीं। हम थोड़े अंधविश्वासी हैं कि कोई काम जब तक हो न जाए, उस बारे में बात न करें। तो जब मैं अपने सेट पर पहुंची और पहला शॉट दिया तब तक किसी को नहीं मालूम था कि मैं धर्मा की फिल्म कर रही हूं।

पहला शॉट कैसा रहा था?
निर्देशक पुनीत बहुत अच्छे हैं। उन्होंने मुझे और तारा को पहले ही बता दिया था कि परेशान होने की जरूरत नहीं है। मैं आप लोगों का पहला शॉट अकेले-अकेले लेने वाला हूं। मेरा एक गाने का शॉट था। हमने कर लिया और फिर मुझे होश आया कि मेरा पहला शॉट तो हो भी गया और मैं बन गई हीरोइन।

टाइगर को लेकर थोड़ी नर्वसनेस थी?
मैं और टाइगर बहुत पहले से एक-दूसरे को जानते थे। हम दोनों बडीज जैसे हैं। जब 'हीरोपंती' रिलीज हुई थी तो मेरी मम्मी ने कहा था कि जाकर टाइगर से मिलो और उससे टिप्स ले लो। मैं उसके घर पर पहुंची और मैंने देखा कि वह मार्शल आर्ट की प्रैक्टिस कर रहा है। मार्शल आर्ट के बारे में उसने बताया कि इसके लिए लेट नाइट नहीं कर सकते, आइसक्रीम भी नहीं खा सकते। मैं तो सोचने लगी कि मैं एक्टर बनने का निर्णय लेकर गलती तो नहीं कर रही हूं? इस फिल्म में मैं सबसे आखिरी में चुनी गई थी। जब मालूम पड़ा कि टाइगर भी मेरे साथ हैं तो मुझे उसकी टिप्स ही याद आई। वैसे हम बहुत अच्छे दोस्त हैं। सबके लिए वे बहुत शर्मीले शख्स होंगे लेकिन मेरे लिए तो वे बिलकुल बिंदास हैं।

आप शाहरुख की बेटी सुहाना की अच्छी दोस्त हैं, वे कब फिल्में करेंगी कुछ बताया?
सुहाना बहुत अच्छी एक्टर हैं। जल्द ही करनी चाहिए फिल्म। उन्होंने शेक्सपियर के नाटक भी किए हुए हैं। यूट्यूब पर उनके कई वीडियो भी हैं। उन्हें मेरा ट्रेलर बहुत अच्छा लगा। मैंने, शनाया (संजय कपूर की बेटी) और सुहाना को लेकर एक वॉट्सऐप ग्रुप भी बनाया है। नाम है- 'चार्लीज एंजिल्स' जिसमें मैं अपने लिंक्स डालती रहती हूं। हम कोई भी करियर अपना लें लेकिन एक-दूसरे के लिए कभी भी बदलेंगी नहीं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख बेटे आरव को एकसाथ 4 लड़कियों के साथ डेट नहीं करने देना चाहते अक्षय कुमार, वजह है मजेदार