Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Coronavirus Cases Today: कोरोना के नए मामलों में आज 18 फीसदी की गिरावट, पिछले 24 घंटों में 2075 नए केस दर्ज

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 19 मार्च 2022 (09:53 IST)
Coronavirus Cases Today in India: देश में पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के 2 हजार 75 नए केस सामने आए हैं और 71 लोगों की मौत हो गई। जानिए देश में कोरोना की ताजा स्थिति क्या है?

 
Coronavirus Cases Today in India: देश में जानलेवा कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के नए मामलों में आज 18 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। देश में पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के 2 हजार 75 नए केस सामने आए हैं और 71 लोगों की मौत (Covid Deaths) हो गई। कल शु्क्रवार को कोरोना के 2 हजार 528 केस दर्ज किए गए थे और 149 लोगों की मौत हुई थी। जानिए देश में कोरोना की ताजा स्थिति क्या है?
 
एक्टिव केस घटकर 27 हजार 802 हुए : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक कल शुक्रवार को देश में 4 हजार 722 लोग ठीक हुए जिसके बाद अब एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 27 हजार 802 हो गई है, वहीं इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 5 लाख 16 हजार 352 हो गई है। आंकड़ों के मुताबिक अभी तक 4 करोड़ 24 लाख 61 हजार 926 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं।

webdunia
 
अब तक 181 करोड़ से ज्यादा खुराकें दी गईं : राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत अभी तक कोरोनावायरसरोधी टीकों (Corona Vaccine) की 181 करोड़ से ज्यादा खुराकें दी जा चुकी हैं। कल 5 लाख 84 हजार 177 डोज दी गईं जिसके बाद अब तक वैक्सीन की 181 करोड़ 4 लाख 96 हजार 924 डोज दी जा चुकी हैं।
 
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक स्वास्थ्यकर्मियों, कोरोना योद्धाओं और 60 साल से ज्यादा आयु वाले अन्य बीमारियों से ग्रस्त लोगों को 2 करोड़ से ज्यादा (2,16,60,637) ऐहतियाती टीके लगाए गए हैं। देश में कोविडरोधी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी, 2021 से शुरू हुआ और पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया गया, वहीं कोरोना योद्धाओं के लिए टीकाकरण अभियान 2 फरवरी से शुरू हुआ था।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारत में कब दस्तक दे सकती है चौथी लहर? जानें BA2 के खतरे के बारे में विशेषज्ञों का दावा