Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कानपुर में जीका वायरस के संक्रमण का विस्फोट, एक साथ मिले 25 नए मरीज

webdunia

अवनीश कुमार

बुधवार, 3 नवंबर 2021 (18:27 IST)
कानपुर। कानपुर में जीका वायरस के संक्रमण में जहां मंगलवार को एक भी मरीज नहीं मिला था, बुधवार को जीका वायरस के 25 नए मरीज मिलने से हड़कंप मच गया है। अब कानपुर में मरीजों की संख्या कुल 36 हो गई है। बुधवार को मिले 25 नए मरीजों में गर्भवती महिलाएं भी शामिल हैं।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जीका वायरस के नए 25 मरीज परदेवनपुरवा, हरजिंदरनगर, पोखरपुर और शिवकटरा में मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने संक्रमित मरीजों की संख्या अभी और बढ़ने की आशंका जताई है। दिवाली और छठ के त्योहार पर अचानक जीका के संक्रमित बढ़ने के बाद स्वास्थ्य विभाग नए सिरे से रणनीति तैयार कर रहा है।
 
घर-घर जाकर हो रही है जांच : कानपुर में बुधवार को 25 नए मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है और जीका वायरस से प्रभावित क्षेत्रों में जांच, बचाव एवं सैंपलिंग तेज कर दी गई है। घर-घर जाकर जीका के लक्षण वालों के सर्विलांस के लिए 54 टीमें लगाई गई है। सर्विलांस टीमों ने 8979 घरों में जाकर लोगों का डेटा जुटाया। जीका के लक्षण के 23 व बुखार पीडि़त 80 मिले हैं, जिनका सैंपल लिया गया। इस दौरान 16 गर्भवती मिलीं, उनमें से 12 का सैंपल लिया गया। इस दौरान कुल 115 सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया है। रैपिड रिस्पांस टीमें संक्रमितों के घर, उनके स्वजन व रिश्तेदारों की जांच कर रही हैं। इस दौरान 204 सैंपल एकत्र किए गए।
 
क्या बोले अधिकारी : कानपुर के जिलाधिकारी विशाख जी. ने 25 नए जीका वायरस मरीज मिलने की पुष्टि की है। उन्होंने ने बताया है कि कानपुर में अब कुल 36 मरीज ऐसे हैं जो जिका वायरस संक्रमण की चपेट में आए हैं। डॉ. जीके मिश्रा, अपर निदेशक, चिकित्सा स्वास्थ्य ने बताए कि जीका का स्रोत खत्म करने के लिए 45 टीमों ने 12 मुहल्लों के 2318 घरों में जांच की।
 
68 घरों में मच्छर का लार्वा मिला, जिसे नष्ट कराया गया। 18 लोगों को नोटिस दी गई है जबकि 1580 घरों के अंदर मच्छर मारने के लिए स्प्रे किया गया। सर्विलांस टीमों ने जीका के लक्षण वाले, बुखार पीडि़त एवं गर्भवती समेत 451 लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारत में बनी Covaxin को WHO ने दी मंजूरी, अन्‍य देशों में भी मिल सकेगी मान्‍यता