Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

बड़ी खबर, महाराष्ट्र में 3 महीने बाद Corona के 6000 नए मामले

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
शुक्रवार, 19 फ़रवरी 2021 (21:55 IST)
मुंबई। महाराष्ट्र में तीन महीने बाद पहली बार शुक्रवार को कोविड-19 के 6,000 नए मामले आए जिससे महामारी की स्थिति बिगड़ने का संकेत मिलता है।
 
राज्य स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि राज्य में संक्रमण के 6112 नए मामलों में अधिकतर अकोला, पुणे और मुंबई खंड से आए हैं। इससे पहले राज्य में 30 अक्टूबर को एक दिन में 6000 से ज्यादा मामले आए थे और उसके बाद मामलों की संख्या घटने लगी थी।
 
संक्रमण के नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 20,87,632 हो गई जबकि 44 और लोगों की मौत होने से मृतक संख्या 51,713 हो गई। इन 44 मौतों में 19 लोगों की मौत पिछले 48 घंटे में हुई, 10 की मौत पिछले सप्ताह हुई जबकि 15 की मौत उससे पहले हुई थी।
मुंबई शहर और आसपास के इलाकों से संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले आ रहे थे। लेकिन, 12 फरवरी के बाद से अकोला, अमरावती में संक्रमण के मामलों में तेज वृद्धि हुई है। अकोला खंड में 12 फरवरी को संक्रमितों की संख्या 76,207 थी जो शुक्रवार को बढ़कर 82,904 हो गई। अकोला खंड में अकोला, अमरावती और यवतमाल जिले शामिल हैं।
 
कोरोना का नया स्वरूप नहीं : इससे पहले दिन में राज्य सरकार ने कहा कि ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील में पाए गए कोरोना वायरस के नए स्वरूप का कोई मामला महाराष्ट्र के अमरावती और यवतमाल जिलों में सामने नहीं आया है।
स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि पश्चिमी महाराष्ट्र के पुणे, सतारा जिले और विदर्भ क्षेत्र के अमरावती और यवतमाल जिलों में कोरोना वायरस के नए मामले बढ़ने के मद्देनजर इन इलाकों से लिए गए वायरस के नमूनों की ‘जीनोम सीक्वेंसिंग’ की गई।
 
राज्य में अस्पतालों से 2159 लोगों को छुट्टी मिलने के साथ अब तक 19,89,963 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। राज्य में 44,765 उपचाराधीन मरीज हैं।
 
मुंबई में दिसंबर के बाद सबसे ज्यादा मामले : वहीं, मुंबई में दिसंबर के बाद से कोविड-19 के सबसे ज्यादा 823 मामले आए हैं। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बताया कि मुंबई में संक्रमितों की संख्या 3,17,310 हो गई, जबकि 5 और लोगों की मौत हो जाने से मृतक संख्या 11,435 हो गई। पिछले 24 घंटे के दौरान 440 मरीजों को छुट्टी दे दी गई। शहर में 6577 मरीजों का उपचार चल रहा है।
शुक्रवार को 18 हजार से ज्यादा नमूनों की जांच : बीएमसी ने बताया कि शुक्रवार को शहर में 18,366 नमूनों की जांच की गई। अब तक कुल 30,98,894 जांच की गई है। शहर में शुक्रवार को 26 केंद्रों पर 10,300 लोगों को टीके की खुराक दी गई। इनमें से 3000 स्वास्थ्यकर्मी और 7300 अग्रिम मोर्चे के कर्मी थे। अब तक कुल 1,55,358 लोगों का टीकाकरण हो चुका है।

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
Renault Kiger की भारत में बुकिंग शुरू, जानिए क्या है खासियत