Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

66 फीसदी वयस्क आबादी ने ली Vaccine की पहली खुराक, भारत सरकार ने जारी किए आंकड़े

webdunia
शुक्रवार, 24 सितम्बर 2021 (00:47 IST)
नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश की कुल वयस्क आबादी (18 साल से ज्यादा आयु वाले) में से कम से कम 66 प्रतिशत लोगों ने कोविड-19 कोरोनावायरस (Coronavirus) टीके की एक खुराक जरूर लगवा ली है। वहीं 23 प्रतिशत हिस्से ने दोनों खुराक लगवाई हैं।

केन्द्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि टीके की 63.7 प्रतिशत खुराक ग्रामीण क्षेत्रों में जबकि 35.4 प्रतिशत शहरी क्षेत्रों में लगाई गई हैं। उन्होंने बताया कि वहीं ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों की श्रेणी में नहीं आने वाले कोविड टीकाकरण केन्द्रों पर 68.2 लाख खुराक लोगों को लगाई गई हैं।

को-विन पोर्टल पर उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक कोविड-19 टीके की 84 करोड़ से ज्यादा खुराक लगाई जा चुकी हैं। भूषण ने कहा कि एक मई से 22 सितंबर तक निजी अस्पतालों में करीब छह प्रतिशत खुराक लगाई गईं, जबकि बाकी खुराक सार्वजनिक (सरकारी) स्वास्थ्य केन्द्रों पर लगाई गईं।

नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) वीके पॉल ने कहा, भारत की कुल वयस्क आबादी के दो तिहाई हिस्से (66 प्रतिशत) को सार्स-सीओवी2 का टीका लगाया जा चुका है और करीब एक तिहाई आबादी (23 प्रतिशत) को टीके की दोनों खुराकें लगाई गई हैं और इन दोनों मानदंडों में आप देख सकते हैं कि ऐसे कई राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश ऐसे हैं जिन्होंने इन औसत से बेहतर किया है।
webdunia

उन्होंने कहा कि टीका इस गंभीर बीमारी और मृत्यु से बहुत हद तक सुरक्षा प्रदान करता है और इसलिए यह संतोष की बात है कि टीकाकरण इतने व्यापक स्तर पर हुआ है। पॉल ने कहा, हम उन लोगों से अनुरोध करते हैं, जिन्होंने पात्र होने के बावजूद अभी तक टीका नहीं लगवाया है...महिला-पुरुष, गर्भवती महिलाएं और सभी लोग, खासतौर से जिनकी आयु 50 साल से ज्यादा है, उन्हें टीके की पहली और दूसरी खुराक लगवा लेनी चाहिए, ताकि उन्हें पूर्ण सुरक्षा मिल सके और हम इस महामारी से पार पा सकें।

स्वास्थ्य सचिव भूषण ने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों में से 99 प्रतिशत ने टीके की पहली खुराक लगवा ली है, जबकि 84 प्रतिशत स्वास्थ्यकर्मी ऐसे हैं जिन्होंने दोनों खुराकें लगवाई हैं। उन्होंने बताया कि सभी कोरोना योद्धाओं को टीके की पहली खुराक लगाई जा चुकी है और 80 प्रतिशत ने दोनों खुराकें लगवाई हैं।
ALSO READ: देश में कमजोर पड़ रहा Coronavirus, सितंबर के मध्य में 1 से नीचे पहुंची वायरस की R-Value
साझा किए गए आंकड़े के अनुसार, रोजाना लगाई जाने वाली टीके की खुराकों की औसत संख्या बढ़ी है। यह संख्या मई में 19.69 लाख, जून में 39.89 लाख, जुलाई में 43.41 लाख थी, जो बढ़कर अगस्त में 59.19 लाख प्रतिदिन हो गई है। सितंबर में अभी तक रोजाना औसत रूप से 81.60 लाख टीके लगाए जा रहे हैं।(भाषा) 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ऑस्ट्रेलियाई PM मॉरिसन से मिले मोदी, रक्षा, व्‍यापार और Corona पर हुई चर्चा