इंदौर में 88 वर्षीय मुक्ता जैन ने कोरोना से जंग जीतकर साबित किया 'डर के आगे जीत है'

सोमवार, 18 मई 2020 (19:31 IST)
इंदौर। इंदौर के अरबिंदो अस्पताल से सोमवार को करीब 55 कोरोना संक्रमित व्यक्ति स्वस्थ हुए। तालियों की गूंज के साथ इन्हें अपने घरों की ओर रवाना किया गया। इन स्वस्थ होने वाले व्यक्तियों में 88 वर्षीय मुक्ता जैन भी शामिल हैं, जिन्होंने साबित कर दिया हौसले के आगे हर विषम परिस्थिति ढेर है।
 
डिस्चार्ज होने वाले सभी व्यक्तियों ने बताया कि अस्पताल में उनका इलाज पूर्णतया नि:शुल्क रूप से हुआ है। जूनी इंदौर निवासी आरती गोस्वामी ने बताया कि यह वक्त सावधानी एवं सतर्कता का है। 
 
आरती के अनुसार अस्पताल एवं प्रशासन कड़ी मेहनत और शिद्दत से कोरोना संक्रमण की स्थिति से पार पाने के लिए कार्य कर रहा है। जिन्होंने हमें ठीक किया वे भगवान द्वारा भेजे गए दूत के समान हैं, जो अपनी परवाह किए बगैर करोना संक्रमित मरीजों की देखभाल कर रहे हैं।
 
परदेशीपुरा थाना में पदस्थ धर्मेंद्र कुमार जाट भी आज कोरोना से स्वस्थ होकर अपने घर रवाना हुए। उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, डॉक्टर, स्टाफ, स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया।
 
इसी प्रकार खंडवा से इलाज के लिए इंदौर आए राजकुमार बसंतानी, वल्लभ नगर निवासी चेतन कलाठी, नेहरू नगर से पूर्वी जैन, मरीमाता से नंदिनी ने भी कृतज्ञता व्यक्त करते हुए कोरोना की रोकथाम एवं इसके इलाज के लिए कार्य कर रहे शासन, प्रशासन सभी का आभार व्यक्त किया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मुख्यमंत्री योगी के निर्देश, प्रवासी श्रमिकों के लिए भोजन की व्यवस्था की जाए...