Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Corona के उपचार में कारगर साबित हो रही है यह आयुर्वेदिक दवा, केंद्र सरकार ने दी जानकारी

webdunia
गुरुवार, 29 अप्रैल 2021 (20:40 IST)
नई दिल्ली। मलेरिया के उपचार के लिए 1980 में विकसित दवा आयुष-64, कोविड-19 के हल्के एवं मध्यम संक्रमण के मामलों में उपचार के लिए उपयोगी है। यह जानकारी गुरुवार को आयुष मंत्रालय ने दी। सेंटर फॉर रियूमैटिक डिजीज, पुणे के निदेशक अरविंद चोपड़ा ने डिजिटल संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस सिलसिले में दवा का परीक्षण तीन केंद्रों पर किया गया।
किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ; दत्ता मेघे इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, वर्धा और बीएमसी कोविड केंद्र, मुंबई में 70- 70 रोगियों पर इस दवा का परीक्षण किया गया। चोपड़ा ने कहा कि आयुष-64 से उपचार में काफी सुधार दिखा और इसमें कम समय तक अस्पताल में भर्ती रहना पड़ा। 
 
उन्होंने कहा कि दवा का सामान्य स्वास्थ्य, थकान, चिंता, तनाव, भूख, खुशी और नींद पर लाभकारी प्रभाव देखा गया। उन्होंने कहा कि दवा के परीक्षण में पाया गया कि आयुष-64 से कोविड-19 के मामूली से मध्यम स्तर का उपचार प्रभावी एवं सुरक्षित तरीके से किया जा सकता है।’’
 
भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद् के पूर्व महानिदेशक वीएम कटोच ने कहा कि आयुष-64 के परिणाम पर एक समिति ने सावधानीपूर्वक समीक्षा की है और मामूली से मध्यम स्तर के कोविड-19 मामलों में दवा के इस्तेमाल की अनुशंसा की है।
 
आयुर्वेदिक विज्ञान अनुसंधान के केंद्रीय परिषद् के महानिदेशक एन. श्रीकांत ने कहा कि दवा पर अतिरिक्त अध्ययन प्रमुख अनुसंधान संस्थानों में जारी है। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Exit Poll : पश्चिम बंगाल में क्या कहते हैं Exit Poll के नतीजे