Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अमेरिका में कहर बरपाता Corona virus, न्यूयॉर्क के बाहर बढ़ रही संक्रमण की दर

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
बुधवार, 6 मई 2020 (12:02 IST)
न्यूयॉर्क। कोरोना वायरस की वैश्विक महामारी को काबू करने की दिशा में न्यूयॉर्क में हुई प्रगति को यदि न गिना जाए तो आंकड़े दर्शाते हैं कि अमेरिका इस बीमारी से निपटने को लेकर गलत दिशा में आगे बढ़ रहा है। दरअसल, न्यूयॉर्क के अलावा अमेरिका में अन्य स्थानों पर संक्रमण की दर बढ़ रही है।
अमेरिका की जॉन्स हॉप्किन्स यूनिवर्सिटी के अनुसार अमेरिका में प्रतिदिन 20,000 से अधिक लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हो रही है और प्रतिदिन 1,000 से अधिक लोग इस बीमारी के कारण मारे जा रहे हैं। 
 
स्वास्थ्य अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि कई स्थानों में लोगों के संक्रमित होने की दर को नीचे नहीं ला पाने के कारण दसियों हजार और लोगों की मौत हो सकती है, क्योंकि लोगों को अब बाहर निकलने और कारोबार फिर से खोलने की अनुमति मिल गई है।
webdunia
कंसास में शावनी काउंटी के स्वास्थ्य विभाग की निदेशक लिंडा ओच ने कहा कि कोई गलती मत कीजिए, यह संक्रमण अब भी हमारे समुदाय में फैल रहा है, संभवत: पहले के हफ्तों से भी अधिक तेजी से फैल रहा है। अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण से न्यूयॉर्क सर्वाधिक प्रभावित हुआ है और देश में हुई 70,000 लोगों की मौत में से कम से कम एक तिहाई लोग यहीं मारे गए हैं। न्यूयॉर्क में अब भी लॉकडाउन जारी है।
 
यदि न्यूयॉर्क को भी शामिल करके आंकड़ों का विश्लेषण किया जाए तो अमेरिका में संक्रमण की दर कम होती दिखाई देती है। एपी के विश्लेषण के अनुसार हर 5 दिन में सामने आने वाले नए मामलों की दर 3 सप्ताह पहले प्रति 1 लाख लोगों पर 9.3 प्रतिशत से कम होकर सोमवार को 8.6 प्रतिशत हो गई है। यदि न्यूयॉर्क को इस विश्लेषण से बाहर कर दिया जाए तो अमेरिका में संक्रमण के नए मामलों की दर बढ़ी है। यह समान अवधि में प्रति 1 लाख पर 6.2 प्रतिशत की दर से बढ़कर 7.5 प्रतिशत हो गई है।
 
लॉस एंजिल्स के कैलीफोर्निया विश्वविद्यालय में जन स्वास्थ्य अनुसंधानकर्ता डॉ. जुओ फेंग झांग ने बताया कि अमेरिका में जांच की दर बढ़ी है और संभवत: इसके कारण भी संक्रमण के नए मामलों की दर बढ़ी है, लेकिन इसका एकमात्र कारण जांच बढ़ना ही नहीं है और यह बढ़ोतरी जांच के कारण नहीं है। यह दर वास्तव में बढ़ी है। आयोवा और कंसास में शावनी काउंटी में संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी हुई है। (भाषा)

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
जानें, विदेशों में फंसे भारतीयों के लिए RESCUE FLIGHTS FROM INDIA वाले गूगल फॉर्म का पूरा सच