Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

corona virus रिसर्च विंग के 37 साल के डॉक्टर की संदेहास्पद मौत, करने वाले थे बड़े खुलासे

webdunia

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

बुधवार, 6 मई 2020 (19:53 IST)
चीन से आया कोरोना वायरस दुनियाभर में कोहराम मचा रहा है। चीन में कोरोना संक्रमण के नए मामले तो सामने नहीं आ रहे हैं। लेकिन दुनिया के बड़े देश कोरोना वायरस से त्राहिमाम कर रहे हैं और चीन पर कोरोना वायरस विकसित करने का आरोप लगा रहे हैं।

इस बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। कोरोना रिसर्च विंग के डॉक्टर की संदिग्ध मौत हो गई है। खबरों के मुताबिक 37 वर्षीय डॉ. बिंग लियू को पेंसिल्वेनिया में उनके घर में मृत पाया गया है। उनके शरीर पर बंदूक की गोलियों के कई जख्म मिले हैं।

लियू ने कुछ दिनों पूर्व दावा किया था कि वे कोरोना को लेकर बड़ा खुलासा करने वाले हैं। खबरों के अनुसार कोरोना काल के दौरान लियू को अपनी रिचर्स में बड़ी सफलता मिली थी।
 
द सन वेबसाइट के मुताबिक पुलिस ने बताया कि 37 वर्षीय डॉ. बिंग लियू का शव उनके पेंसिल्वेनिया स्थित घर में पाया गया। उनके शरीर में बंदूक की कई गोलियों के जख्म थे। लियू की हत्या की गई और हत्या करने वाले ने भी आत्महत्या कर ली। रॉस टाउनशिप में 46 वर्षीय हाओ गु नाम के एक व्यक्ति का शव पास की कार में पाया गया।
 
पुलिस का मानना ​​है कि हाओ गु ने खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली थी। डॉक्टर लियू और हाओ एक- दूसरे के परिचित बताए जा रहे है।

पोस्ट-गजट कि रिपोर्ट के मुताबिक डॉक्टर की हत्या के समय उनकी पत्नी घर नहीं थी। फिलहाल पुलिस यह जांच कर रही है कि क्या उनकी हत्या करने का उनके काम से कुछ लेना-देना था या नहीं।

पुलिस का कहना है कि सप्ताहांत में छानबीन करने के बाद यह पता चला है कि कार से आए हाओ ने टाउनहोम में अपनी कार में लौटने और खुद की जान लेने से पहले डॉक्टर की गोली मारकर हत्या कर दी।

हालांकि पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है, लेकिन सवाल यह उठ रहे हैं कि लियू कोरोना को लेकर कौनसे खुलासे करने वाले थे, क्या उनकी हत्या के पीछे कोई साजिश तो नहीं। 
(Photo Credit : UNIVERSITY OF PITTSBURGH)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Corona Live Updates : पूरी दुनिया में 2 लाख 59 हजार से ज्यादा लोगों की मौत