Corona virus: क्‍या सच होगी नोबेल सम्‍मानित लेविट की भविष्‍यवाणी?

कोरोना से जूझती दुनिया में एक राहत भरी खबर आई है। नोबेल पुरस्कार से सम्मानित और स्टैनफोर्ड बायोफिजिसिस्ट माइकल लेविट का कहना है कि दुनिया कोरोना वायरस का सबसे बुरा और भयावह दौर भुगत चुकी है, अब यह खत्‍म होने वाला है। उन्‍होंने कहा कि अब धीरे-धीरे हालात सुधरेंगे।

लॉस एंजेल्स टाइम्स के साथ चर्चा में माइकल ने बताया कि असली स्थिति उतनी भयावह नहीं है जितनी आशंका जताई जा रही है। जो भी हो यह खबर राहत देने वाली है।

क्‍यों अहम है माइकल की भविष्‍यवाणी
दरअसल माइकल ने इससे पहले बयान दिया था कि चीन में जल्‍द ही कोरोना का कहर खत्‍म हो जाएगा, जबकि कई हेल्थ विशेषज्ञों का दावा था कि चीन को कोरोना वायरस को कंट्रोल करने में बहुत लंबा समय लग जाएगा। ऐसे में माइकल का बयान सही निकला।

लेविट ने फरवरी महीने में लिखा था, हर दिन कोरोना के नए मामलों में गिरावट देखने को मिल रही है। इससे यह साबित होता है कि अगले सप्ताह में कोरोना वायरस से होने वाली मौत की दर घटने लगेगी। उनकी भविष्यवाणी के मुताबिक, हर दिन मौतों की संख्या में कमी आने लगी।

इधर चीन के कई लॉकडाउन एरिया खुलने लगे हैं। लेविट ने चीन में कोरोना से 3 हजार 250 मौतों और 80 हजार संक्रमण के मामलों की बात कही थी। पिछले मंगलवार तक चीन में 3 हजार 277 मौतें और 81 हजार 171 मामले सामने आए हैं। लेविट शेष दुनिया के लिए भी चीन वाले अनुमान के साथ देख रहे हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख राजस्थान में Corona को लेकर अफवाहें फैलाने पर 2 व्यक्ति गिरफ्तार