Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

क्यों जिमी-जिमी गा रहे हैं चीनी? कोविड में दिखी चालाक चीन की बदहाली...

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 1 नवंबर 2022 (19:01 IST)
बीजिंग। चीन की कठोर कोविड नीति और उसके कारण लागू पाबंदियों से परेशान देश की जनता लॉकडाउन के खिलाफ प्रदर्शनों में 1982 की फिल्म 'डिस्को डांसर' के संगीतकार बप्पी लाहिड़ी के लोकप्रिय गाने 'जिम्मी जिम्मी आ जा आ जा' का जमकर उपयोग कर रहे हैं। अगर हम 'जि मी, जि मी' का चीनी भाषा में अनुवाद करें तो इसका अर्थ होता है- 'मुझे चावल दो, मुझे चावल दो'।
 
चीन के सोशल मीडिया साइट 'दोयूयिन' (टिकटॉक का चीनी नाम) पर लाहिड़ी की संगीत से सजे पार्वती खान के गाए हुए इस गीत को मंडारीन भाषा में गाया जा रहा है 'जि मी, जि मी'। अगर हम 'जि मी, जि मी' का अनुवाद करें तो इसका अर्थ होता है- 'मुझे चावल दो, मुझे चावल दो'। इस वीडियो में लोग खाली बर्तन दिखाकर यह बताना चाह रहे हैं कि लॉकडाउन के दौरान खाद्यान्न की कमी की कितनी बुरी स्थिति है।
 
मजे की बात यह है कि वीडियो अभी तक सोशल मीडिया पर मौजूद है जबकि सामान्य तौर पर देश की सरकार की आलोचना करने वाले वीडियो को तत्काल हटा दिया जाता है। गौरतलब है कि चीन में भारतीय सिनेमा हमेशा से लोकप्रिय रहा है और 1950-60 के दशक में राजकपूर की फिल्मों से लेकर '3 इडियट्स', 'सीक्रेट सुपरस्टार', 'हिन्दी मीडियम', 'दंगल' और 'अंधाधुंध' को भी यहां के दर्शकों ने पसंद किया है।
 
पर्यवेक्षकों का कहना है कि चीन के लोगों ने 'जि मी, जि मी' का उपयोग करके प्रदर्शन करने का कमाल का तरीका सोचा है। वे इसके माध्यम से जीरो-कोविड नीति के कारण जनता को हो रहीं दिक्कतों के बारे में बता रहे हैं। चीन में जीरो-कोविड नीति के तहत शंघाई सहित दर्जनों शहरों में पूर्ण लॉकडाउन लगाया गया था जिसके कारण लोग कई सप्ताह तक अपने घरों में बंद रहने को मजबूर हो गए थे।
 
Edited by: Ravindra Gupta(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Morbi Bridge: दुर्घटनास्थल पहुंचे PM मोदी, जाना घायलों का हालचाल