Lokdown पर योगी सख्त, 15 जिलों के हॉटस्पॉट होंगे सील

अवनीश कुमार

बुधवार, 8 अप्रैल 2020 (20:00 IST)
लखनऊ। उत्तरप्रदेश के लखनऊ में कोरोना वायरस के संबंध में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने प्रेस वार्ता में बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैठक में देश में बढ़ रहे कोराना संक्रमण को लेकर चिंता व्यक्त की।

उन्होंने निर्देश देते हुए कहा है कि उप्र के 15 जिलों में जहां 6 या 6 से अधिक केस पाए गए हैं, वहां पर लॉकडाउन की सख्त व्यवस्था के साथ हॉट स्पॉट्‍स को चिन्हित कर वहां सख्त व्यवस्था लागू की जाए।

इन हॉट स्पॉट्‍स में डोर-टू-डोर मैनेजमेंट किया जाएगा और पूरे एरिया को हाउस-टू-हाउस मॉनीटर करके कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि इन 15 जिलों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फेंसिंग की गई है।

कॉन्फ्रेंस में जानकारी मिली है कि आगरा में 12 थानों में 22 हॉट स्पॉट्‍स, गाजियाबाद में 7 थानों में 13 हॉट स्पॉट्‍स, गौतमबुद्ध नगर में 12 हॉट स्पॉट्‍स 12 थानों में, कानपुर नगर में 12 हॉट स्पॉट्‍स 10 थानों में, वाराणसी में 4 हॉट स्पॉट्‍स 4 थानों में, शामली में 3 ऐसे हॉट स्पॉट्‍स 3 थानों में, मेरठ में 7 हॉट स्पॉट्‍स 8 थानों में, बरेली में 1 हॉट स्पॉट्‍स 1 थाने में, बुलंदशहर में 3 हॉट स्पॉट्‍स 3 थानों में मिले हैं।

बस्ती में 3 हॉट स्पॉट्‍स 2 थानों में, फिरोजाबाद में 3 हॉट स्पॉट्‍स 1 थाने में, सहारनपुर में 4 हॉट स्पॉट्‍स 4 थानों में, महराजगंज में 4 हॉट स्पॉट्‍स 2 थानों में, सीतापुर में 1 हॉट स्पॉट्‍स 1 थाने में, लखनऊ में 8 बड़े और 4 छोटे हॉट स्पॉट्‍स 11 थानों में हैं।

इन हॉट स्पॉट्‍स में डोर-टू-डोर मैनेजमेंट किया जाएगा और पूरे एरिया को हाउस-टू-हाउस मॉनिटर करके कार्रवाई की जाएगी। 15 जिलों के हॉट स्पॉट्‍स के अलावा बाकी जगहों पर जो लॉकडाउन की प्रक्रिया अभी तक लागू है, वह लागू रहेगी। किसी को परेशान होने की जरूरत नहीं है।

इन 15 जिलों के हॉट स्पॉट्‍स में विशेष जनसहयोग लेकर 100 प्रतिशत लॉकडाउन का पालन करना होगा, जो थोड़ी बहुत रियायत थी वह रियायत नहीं रहेगी। सरकार नया फैसला प्रदेश की जनता की सुरक्षा को देखते हुए लिया है।

उल्लेखनीय है कि बुधवार सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बैठक के बाद चीफ सेक्रेटरी के द्वारा प्रदेश के 15 जिले को रात्रि 12:00 बजे के बाद सील करने को लेकर दिए गए बयान के चंद घंटों के बाद ही अपर मुख्य गृह सचिव अवनीश अवस्थी ने प्रेस वार्ता कर प्रदेश में रात 12 बजे के बाद सील करने की प्रक्रिया को स्पष्ट करते हुए बताया था कि प्रदेश के 15 जिले ऐसे हैं, जो बेहद संवेदनशील हैं लेकिन इन जिलों के सिर्फ और सिर्फ वही एरिया सील किए जाएंगे जो हॉटस्पॉट हैं और जहां पर कोरोना से संबंधित मरीज पाए गए हैं। बाकी जगहों पर सख्ती से लॉकडाउन का पालन कराया जाएगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख क्या तबलीगी जमात कार्यक्रम के लिए गृह मंत्रालय जिम्मेदार नहीं?