सभी को चौंका देंगे 11 फरवरी को आने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे

सोमवार, 10 फ़रवरी 2020 (07:36 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली में मतदान के बाद आए सभी एक्जिट पोल्स में आम आदमी पार्टी को बड़ी जीत बताई गई है, लेकिन भाजपा और कांग्रेस का दावा है कि सभी एक्जिट पोल्स फेल होंगे और 11 फरवरी को आने वाले दिल्ली के नतीजे सभी को चौंका देंगे।
 
कांग्रेस ने एग्जिट पोल के पूर्वानुमानों को खारिज कर पार्टी के लिए 2015 चुनाव जैसे नतीजों की बात कही गई थी। कांग्रेस ने कहा कि 11 फरवरी को आने वाले मतगणना के नतीजे ‘सभी को चौंका’ देंगे।
 
लगभग सभी एग्जिट पोल सर्वेक्षणों में कांग्रेस के लिए 2015 के प्रदर्शन से अलग पूर्वानुमान नहीं जताया गया है। कांग्रेस दिल्ली में 1998 से 2013 तक सत्ता में रही, लेकिन 2015 विधानसभा चुनाव में एक भी सीट नहीं आई थी।
 
दिल्ली कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता मुकेश शर्मा ने कहा कि एग्जिट पोल सर्वेक्षणों पर अन्य को जश्न मनाने दीजिए। मुझे इसका पक्का विश्वास है कि 11 फरवरी को आने वाले चुनाव परिणाम सभी को चौंका देंगे।
 
दिल्ली कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने कहा कि उनकी पार्टी के सभी उम्मीदवारों ने पूरी ताकत से चुनाव लड़ा है। 
 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कम से कम ऐसे 20 उम्मीदवार थे जो त्रिकोणीय मुकाबले में थे। हम एग्जिट पोल सर्वेक्षणों के पूर्वानुमानों को खारिज करते हैं।
 
कांग्रेस ने दिल्ली विधानसभा चुनाव राजद के साथ गठबंधन में लड़ा था। कांग्रेस ने 66 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे जबकि 4 सीटें राजद के लिए छोड़ी थीं।
 
शर्मा ने कहा कि हमने सभी सीटों पर सर्वश्रेष्ठ उम्मीदवार खड़े किए, ईमानदारी से प्रचार किया और अच्छे प्रदर्शन को लेकर सकारात्मक हैं। शर्मा स्वयं विकासपुरी सीट से पार्टी की ओर चुनाव मैदान में थे।
 
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी ट्‍वीट कर कहा था कि 11 फरवरी को सभी एक्जिट पोल फेल हो जाएंगे और भाजपा 48 सीटों के साथ सरकार बनाएगी।
webdunia-ad

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख दिल्ली विधानसभा चुनाव में 62.59% मतदान, देरी पर चुनाव आयोग की सफाई