गांधी परिवार को मिला नया 'राजनीतिक उत्तराधिकारी'

शनिवार, 8 फ़रवरी 2020 (18:30 IST)
नई दिल्ली। चूंकि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अभी तक विवाह नहीं किया है। ऐसे में राजनीतिक गलियारों से लेकर आम लोगों के बीच यह चर्चा रहती है कि आखिर गांधी परिवार का नया राजनीतिक उत्तराधिकारी कौन होगा? संभवत: इस सवाल का जवाब मिल गया है। 
 
माना जा रहा है कि नेहरू परिवार की पांचवीं पीढ़ी और प्रियंका गांधी वाड्रा के बड़े पुत्र रेहान वाड्रा गांधी परिवार के राजनीतिक वारिस हो सकते हैं। हालांकि इस संबंध में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं हैं, लेकिन जिस तरह से रेहान सार्वजनिक रूप से सामने आए हैं, उसके चलते इस तरह की अटकलों को बल मिला है। 
 
दरअसल, प्रियंका के पुत्र रेहान का पूरा नाम जिस तरह से लिखा गया है उससे भी इन अटकलों को बल मिलता है। एएनआई के ट्‍वीट के मुताबिक रेहान ने लोधी एस्टेट के वूथ नंबर 114 और 116 बूथ पर मां प्रियंका और पिता रॉबर्ट वाड्रा के साथ वोट डाला।
 
ट्‍वीट में जिस तरह उनका नाम (रेहान राजीव वाड्रा) लिखा गया है उससे यह अटकल लगाना स्वाभाविक है, क्योंकि नाम के साथ कोई भी व्यक्ति अपने पिता का नाम जोड़ता है न कि नाना का। 
 
यहां यह भी ध्यान देने वाली बात है कि राजीव गांधी भी अपने नाना की तरह देश के प्रधानंमत्री बने थे। ...और अब राजीव गांधी का नाती भी उन्हीं की राह पर है। वैसे भारतीय परंपरा में अपने नाम के साथ पिता का नाम जोड़ा जाता है। ऐसे में रेहान रॉबर्ट वाड्रा उनका नाम हो सकता था। मगर रेहान राजीव वाड्रा से संकेत मिलता है कि आने वाले समय में रेहान नेहरू-गांधी परिवार की राजनीतिक विरासत को संभाल सकते हैं।
 
मतदान के बाद रेहान ने कहा कि लोकतांत्रिक प्रक्रिया में भाग लेना एक अच्छा अनुभव था। उन्होंने कहा कि सभी लोगों को अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि सबको पब्लिक ट्रांसपोर्ट का उपयोग करना चाहिए तथा छात्रों को किराए में रियायत दी जानी चाहिए।
 
ट्‍विटर पर लोग भी रेहान को लेकर कमेंट करने में नहीं चूके। अलका सिंह नामक ट्‍विटर हैंडल से लिखा गया- बच्चे के नाम के आगे उसके बाप या बाबा का नाम लिखा जाता है। यह 'रेहान राजीव' क्या होता है?
 
दलीप पंचोली ने लिखा- कांग्रेस के भावी मालिक। समीर माहेश्वरी ने लिखा- कुछ सालों बाद इसे ही तो झेलना है कांग्रेसियों को। एक अन्य ट्‍विटर हैंडल से कटाक्ष किया गया- इनके बाल इंदिरा जैसे हैं, पार्टी अध्यक्ष बनाओ भाई।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख ICC U-19 WC 2020 Final INDvsBAN: भारत का पलड़ा बांग्लादेश पर भारी