Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

जिस किसान का अपमान कर रहे हैं, उसी का बेटा सीमा पर आपकी सुरक्षा कर रहा है : प्रियंका गांधी

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
सोमवार, 15 फ़रवरी 2021 (16:03 IST)
लखनऊ। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने किसानों की मांग नहीं सुनने को लेकर सोमवार को सरकार से कहा कि जिस किसान का आप अपमान कर रहे हैं, उसका बेटा सीमा पर आपकी सुरक्षा कर रहा है, आपको उनका अपमान करने का हक नहीं है।

केन्द्र के नए कृषि कानूनों पर कांग्रेस नेता ने कहा, प्रधानमंत्री जी आपने जो यह कानून बनाया है, उससे देश का किसान, इस देश का गरीब संकट में है, रो रहा है अपना अधिकार मांग रहा है। आप उस कानून को वापस लीजिए, इन कानूनों को रद्द कीजिए। जिन्होंने आपको सत्ता दी है उनका आदर कीजिए, उनको अपमानित मत कीजिए।

बिजनौर में किसान महापंचायत को संबोधित कर रहीं गांधी ने नवंबर के अंत से जारी किसान आंदोलन के परिप्रेक्ष्य में कहा, किसान आपके दरवाजे पर खड़ा है, उसका बेटा आपकी सीमा पर खड़ा है। जिस किसान का आप अपमान कर रहे हैं, उसका बेटा सीमा पर आपकी सुरक्षा कर रहा है।

सरकार को अहंकारी बताते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, नेता दो तरह के होते हैं, कुछ ऐसे होते हैं जिन्हें बहुत अहंकार हो जाता है, वह भूल जाते हैं कि उन्हें सत्ता देने वाला कौन है। देश के इतिहास में बार-बार ऐसा हुआ है जबकि नेता को अहंकार होने पर देशवासी उसे सबक सिखाते हैं। और जब देशवासी उसे सबक सिखाते हैं, तब वह शर्मिंदा होता है, वह समझता है कि उसका धर्म क्या था।

उन्होंने केन्द्र सरकार पर जनता से किए गए वादे पूरे नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा, सात साल में जितने वादे किए सारे तोड़ दिए। छोटा व्यापारी था, उसकी कमर तोड़ दी। किसान की कमर तोड़ दी, गरीब की मदद नहीं की।

केन्द्र सरकार पर पूंजीपतियों के लिए काम करने का आरोप लगाते हुए प्रियंका गांधी ने किसानों से कहा, मुझे नहीं लगता यह (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीत सरकार) आपके लिए काम करेंगे, लेकिन मुझे आप पर भरोसा है, देश की जनता पर भरोसा है और आपसे बड़ी उम्मीद है। मुझे उम्मीद है कि आप पीछे नहीं हटेंगे, आप अपने अधिकारों के लिए लड़ेंगे और इस लड़ाई में कांग्रेस और उसका हर एक कार्यकर्ता आपके साथ है।(भाषा)

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
मंदिर निर्माण में सबसे पहले 1 करोड़ रुपए देने वाले विनोद अग्रवाल को मंदिर का मॉडल भेंट