Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

UFO Day : यूएफओ की 21 रोचक बातें

हमें फॉलो करें webdunia

अनिरुद्ध जोशी

शुक्रवार, 1 जुलाई 2022 (16:02 IST)
Unidentified flying object ffxiv : दुनियाभर में 2 जुलाई को मनाया जाता है UFO डे। पिछले वर्ष उड़नतश्तरी देखे जाने के दावे बढ़ गए हैं। आओ जानते हैं इस संबंध में 21 रोचक जानकारी।
 
1. नए शोधानुसार 10 हजार ईपू धरती पर एलियंस उतरे थे, जो 'ओरायन तारामंडल' से आते थे।
 
2. सबसे पहले चीन के खगोल विज्ञानी ने 410 ईसा पूर्व में उड़नतश्तरी देखने का किया था दावा।
 
3. इजीप्ट, मेसोपोटामिया, सुमेरियन, सिंधु घाटी, माया आदि सभ्यताओं के टेक्स्ट में उड़नतश्तरी का जिक्र।
 
4. विश्वभर के कुछ वैज्ञानिक मानते हैं कि धरती पर कुछ जगहों पर छुपकर रहते हैं दूसरे ग्रह के एलियंस।
 
5. अमेरिकी महिला ब्रिगेट नीलसन और एलुना वर्स का दावा है कि हमने किया एलियंस के साथ सेक्स।
 
6. सन् 2010 की एक खबर के अनुसार 1948 के बाद एलियंस अमेरिका और ब्रिटेन के परमाणु मिसाइल वाले स्थलों पर कई बार मंडराए थे।
 
7. पेंटागन ने अमेरिकी संसद को बताया कि 2000 दशक में सुरक्षित इलाकों में अज्ञात उड़ने वाली वस्तुओं के देखे जाने में बढ़ोतरी हुई है।
 
8. अमेरिकी मानते हैं कि सेना ने नेवादा के एरिया-51 में एलियंस को कैद कर रखा है। 
 
9. वर्ष 1997 में हुए एक जनमत संग्रह के अनुसार 80 फीसदी अमेरिकी मानते हैं कि UFO के मामले में उनसे सच्चाई गई।
 
10. हिमालय के आसपास UFO देखे जाने की सैंकड़ों घटनाएं दर्ज की गई है। 
 
11. छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले में एक गुफा में 10 हजार वर्ष पुराने शैलचित्र मिले हैं जिसमें से एक उड़न तश्तरी का चित्र भी है।
 
12. एलियंस अर्थात अंतरिक्ष में किसी दूसरे ग्रह पर रहने वाले लोग जो उड़न तश्तरी अर्थात यूएफओ में सफर करते हैं।
 
13. पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी यूएओ देखे जाने का दाव किया था। उन्होंने यह दावा एक टीवी शो के दौरान किया। 
 
14. इससे कुछ समय पहले ही अमेरिकन नेवी के पूर्व लेफ्टिनेंट रायन ग्रेव्स ने भी मिलता-जुलता दावा किया था। 
 
15. अमेरिकी लोग यह मानते हैं कि सेना और नासा ने मिलकर एरिया-51 नामक क्षे‍त्र में एलियंस (दूसरे ग्रह के लोग) को रख रखा है और वे ये बात दुनिया से छुपा रहे हैं।
 
16. अमेरिका में साल 1950 से ही कहा जाने लगा कि एरिया-51 में एलियंस रहते हैं। कंटीली बाड़ों के बीच रात-बेरात उड़ते विमानों की चमक दिखाई देना इस बात को और पुख्ता करता है। जून 1959 में पहली बार ये बात मीडिया में आई कि नेवादा के आसपास के लोग हरी चमक के साथ कुछ रहस्यमयी चीजों को उड़ता देख चुके हैं।
 
17. 2015 में अमेरिका की खुफिया एजेंसी सीआईए ने एरिया-51 के नाम से विख्‍यात खुफिया परीक्षण क्षेत्र के अस्तित्व को अधिकारिक रूप से स्वीकार किया था, परंतु कोई यह नहीं कहता है कि यहां एलियंस को रखा गया है। लगभग 3.7 किलोमीटर में फैले इस क्षेत्र को हाल ही में सैटेलाइट से देखा जा सकता है।
 
18. 'एरिया 51' के पास स्थित रॉसवेल (न्यू मेक्सिको) नाम के क़स्बे से कुछ ही दूर 1947 में एक उड़न तश्तरी गिरकर ध्वस्त भी हो गई थी। उसके मलबे को आननफान में 'एरिया 51' में कहीं छिपा दिया गया। इसमें एलियन के शव भी थे। 
 
19. कहते हैं कि कथित परग्रही का वह कथित शव रॉसवेल के अंतरराष्ट्रीय UFO संग्रहालय में रखा हुआ है। शव मिलने और डॉक्टरों द्वारा उसकी चीर-फाड़ करने के दावे भी किए जाते रहे हैं। 
 
20. दुनियाभर में यूएफओ देखे जाने की घटना का दावा किया गया है। अमेरिका, फ्रांस, रशिया, चीन, भारत और ऑस्ट्रेलिया में ऐसी घटनाओं को दर्ज किया गया है। भारत में गुजरात के जामनगर में, लद्दाख और अरुणाचय में यूएफओ देखे जाने की घटनाएं दर्ज की गई है। चीन के एक खगोल विज्ञानी ने दुनिया में पहली बार उड़न तश्तरी देखने का दावा किया था। उसके बाद से आकाश में इस तरह की चमकती वस्तुएं देखने की घटनाएं लगातार सामने आने लगीं और अमेरिका, फ्रांस, स्वीडन, रूस आदि देशों में इस पर अध्ययन के लिए कई समितियां गठित की गईं।
 
21. प्रत्यक्षदर्शी दावे से कह रहे हैं कि ये चमकदार उड़न तश्तरियां चीन की सीमा से आती हैं। यही वजह है कि उन पर दुनियाभर में कई फिल्में बन चुकी हैं एवं सैकड़ों किताबें लिखी जा चुकी हैं। दिलचस्प बात यह है कि पिछले 2 हजार साल में अज्ञात वस्तुओं को आकाश में उड़ता देखने का दावा करने वालों की संख्या सैकड़ों थी, लेकिन पिछले 200 सालों में यह संख्या बढ़कर हजारों में पहुंच गई है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

इन 5 तरीकों से गिलोय का सेवन आपको रखेगा सेहतमंद