Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

फरवरी से मार्च तक सर्द-गर्म होकर चकमा देता रहेगा मौसम, रखें 20 सावधानियां

हमें फॉलो करें webdunia
फरवरी में बसंत पंचमी के बाद से मौसम की हवा बहुत कुछ बदल जाती है। सुबह और रात में ठंड का पारा बढ़ जाता है और दिनभर तपती गर्मी शुरू हो जाती है। बॉडी की इम्युनिटी कमजोर होने पर लोगों को जल्दी सर्दी-जुकाम होता है। वहीं जिनकी इम्‍युनिटी मजबूत होती है वे जल्दी ठीक हो जाते हैं और किसी भी मौसम में जल्‍दी बीमार नहीं पड़ते हैं। आइए जानते हैं किस तरह रखें खुद का ख्याल और 20 बीमारियों से रहें सावधान -

- बीमारियों से बचने के लिए मौसमी फल और सब्जियों को अधिक से अधिक सेवन करें। फल-सब्जियों को अच्छे से धोकर खाएं।  

- शरीर में पानी की कमी नहीं होने दें। मौसम ठंडा होने की वजह से पानी की प्यास बहुत अधिक नहीं लगती है। लेकिन फिर भी पानी भरपूर पिए।  

- जिस तरह से सर्दी-जुकाम कोविड की गिनती में आने लगा है ऐसे में हाथों को अच्‍छे से धोकर ही भोजन करें।  

- दिन में गर्मी होने और रात में ठंडी होने पर धूप में से आकर तुरंत पानी नहीं पिएं। अन्यथा गले दुखकर बुखार आ जाता है।  

- इस मौसम में खाने का बेहद ख्‍याल रखें। बाहर की चीजें नहीं खाएं। क्योकि इस मौसम में इम्‍युनिटी कमजोर होती है।  

- संक्रमण से बचाव के लिए नहाने के पानी में नीम के पत्ते मिलाएं।  

- ब्रेकफास्‍ट नियमित रूप से करें। और इस मौसम में आदर्श भोजन सबसे अच्‍छा होता है। सुबह के भोजन में दाल, चावल, सब्जी, रोटी और सलाद खाएं। वहीं डिनर शाम 7 बजे तक कर लें। उसमें सब्जी रोटी और सलाद खाएं। या नमकीन थूली और कढ़ी-चावल भी खा सकते हैं।  

- जिस तरह से गर्मी बढ़ने लगती है, खुली चप्पल ही पहने। इससे पैरों में संक्रमण नहीं फैलेंगा।  

- बदलते मौसम में स्किन का ख्याल भी रखना जरूरी होता है। त्वचा बेजान और रूखी हो जाती है।  

- इम्‍युनिटी को मजबूत करने के लिए रोज रात में हल्दी का दूध पी सकते हैं।

- इस मौसम में कफ सबसे अधिक होता है ऐसे में गुनगुना पानी का ही सेवन करें।  

- अगर आप सुबह मॉर्निंग वॉक पर जा रहे हैं तो एकदम से खुली ठंडी हवा में वॉक नहीं करें।  

- 7 घंटे से अधिक की नींद काफी होती है। ठंड के दिनों में नींद देरी से खुलती है इसलिए अलार्म लगाकर सोएं।  

- ठंडें-गरम मौसम में हर्बल टी का सेवन करें। इससे एलडीएल कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड का स्तर कम होगा।  
- साबुत अनाज और दलिया का सेवन करें। दिल की सेहत के लिए अच्‍छा होता है। वजन कम करने में भी मदद मिलती है।  

- एक बार फिर से अपना मॉर्निंग वॉक रूटिन शुरू करने जा रहे हैं तो धीरे-धीरे शुरू करें।  

- सभी मौसम में फायदेमंद खाने योग्य चीजें - मूंग, सेंधा नमक, गाय का दूध, तिल का तेल, मुनक्का और सौंठ अच्‍छा होता है।  

- वसंत ऋतु में न ज्यादा गर्मी होती है ना ही बहुत अधिक ठंड। इस मौसम में गाजर, मूली, अदरक, का अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए।  

- इस मौसम में कफ की समस्या अधिक होती है। इसलिए खानपान पर संयम होना जरूरी होता है।  
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Beauty tips : होंठों पर कालापन बढ़ने के कारण और कैसे दूर करें, जानिए यहां