Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

घर में बैठे बैठे कमजोर हो सकती हैं आपकी हड्डियां, बदल लीजिए आदतें

webdunia
कई बार इंसान उम्र से पहले ही बूढ़ा हो जाता है जिसका सबसे बड़ा कारण होता है खराब लाइफ स्टाइल। अक्सर लोग यह सोचकर चलते हैं कि हमें कुछ नहीं होगा। लेकिन अनुशासन नहीं होने से कब किसे क्या हो जाएं कुछ नहीं कह सकते हैं। कई बार अस्वस्थ जीवनशैली अपनाकर हम बीमारियों को बुलावा देते हैं। जी हां, आज आपको बताने जा रहे हैं कि आपकी बुरी आदत समय से पहले आपकी हड्डियों को कमजोर कर सकती है।

आइए जानते हैं घर में रहकर भी अपनी हड्डियों को कैसे मजबूत करें।

1.व्यायाम और योग - व्यायाम और योग को अपनी जीवनशैली का हिस्सा बना लिजिए। इससे आपको शरीर की मजबूती के साथ ही तन और मन की भी विशेष रूप से मजबूती मिलेगी। आपको बता दें कि व्यायाम और योग देानों में अंतर होता है। व्यायाम करने से मेटाबाॅलिज्म बढ़ता है, शारीरीक गतिविधियां होती है। योग करने से बाॅडी के साथ आपका मन और मस्तिष्क भी एकदम शांत हो जाते हैं।

2.नमक को कहे ना  - जी हां, अक्सर लोगों को नमक ऊपर से डालने की आदत होती है या नमक कम होने पर वह और अधिक डालते हैं। सलाद में भी अधिक नमक का सेवन करते हैं। अगर आप ऐसा कर रहे थे तो अब सावधान हो जाइए। भूलकर भी अलग से अधिक नमक का सेवन नहीं करें। क्योंकि इससे आपकी हड्डियों के गलने का खतरा होता है।

3.विटामिन डी और कैलशिल्यम - बाॅडी में विटामिन डी और कैल्शियम की कमी होने से आपकी हड्डियां कमजोरी होने लग जाती है और वक्त से पहले ही जोड़ों में दर्द होता है। इसलिए भोजन में और नाश्ते में कैल्शियम युक्त चीजों का सेवन करें। साथ ही सुबह 8 से 9 बजे तक की धूप जरूर लें। इससे आपके शरीर को विटामिन डी मिलेगा।

4.स्मोकिंग को कहे नो - जी हां, अगर आप स्मोकिंग करने के आदि है तो धीरे - धीरे इसे छोड़ दें। स्मोकिंग करने से आपकी बोन्स के लिए बनने वाले सेल्स खत्म होने लगते हैं। इससे आपकी हड्डियां कमजोर हो जाती है। साथ ही हडिड्यों से जुड़ी अन्य परेशानियां भी सामने आने लगती है।

5.वजन घटाना - आज के वक्त में लोग ज्यादा मोटा होना भी पसंद नहीं करते और ज्यादा पतला भी। अगर आपका वजन सामान्य से अधिक है तो जरूर घटाएं और उससे कम होने पर अधिक कम नहीं करें। ऐसा करने से आपको आॅस्टियोपोरोसिस होने का खतरा भी अधिक बढ़ जाता है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Medical Prescription में क्या होते हैं डॉक्टर के कोड वर्ड