योग करते समय इन बातों का रखें ध्यान

- नेहा रेड्‍डी

स्वस्थ शरीर की ख्वाहिश सबकी होती है और आजकल की भागदौड़भरी दिनचर्या में खुद के लिए समय निकाला भी बेहद जरूरी होता है। हम हमारी व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय अपने लिए निकालकर व्यायाम की तरफ बढ़ते हैं, जो बेहद जरूरी है। और अगर शरीर को स्वस्थ और सुडौल रखने की बात आती है तो सबसे पहला नाम जो जुबान पर आता है, वह है योग।
 
योग के माध्यम से हम अपने शरीर को तो स्वस्थ रखते ही हैं, साथ ही हम मानसिक शांति की ओर भी बढ़ते हैं। योग शरीर, आत्मा, मानसिक संतुलन व श्वास पर नियंत्रण रखने की कला इन सब पर काम करता है। पर इतने फायदे होने के बावजूद कुछ ऐसी भी बातें हैं, जो हमें योग के दौरान ध्यान रखना बेहद आवश्यक है। आइए जानते हैं।
 
योग करते समय इन बातों का रखें ध्यान
 
यदि आपके शरीर में कोई चोट लगी हो और किसी भी आसन को करने में आपको तकलीफ हो रही हो तो आपको योग उस समय नहीं करना चाहिए। अगर आप ऐसा करते हैं तो परेशानी में आ सकते हैं।
 
हमने आमतौर पर देखा है कि लोग कुछ खाकर योग करने के बारे में सोचते हैं, जो कि गलत है। जब भी आप योग करने के लिए जाएं तो उसके लिए खाली पेट होना जरूरी होता है। नहीं तो आपको उलटी भी आ सकती है, जी मिचला सकता है और सांस लेने में भी परेशानी का अनुभव हो सकता है।
 
 
जब आप योग कर रहे हैं तो इस बात का जरूर ध्यान रखें कि योग करते समय आपको ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए। यह आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है, क्योंकि योग करते समय हमारे शरीर से पसीना निकलता है और हमारा शरीर गर्म रहता है और ऐसे में हम ठंडा पानी पीते हैं तो सर्द-गर्म की शिकायत हो सकती है और आपको जुकाम व कफ जैसी परेशानी हो सकती है।
 
ऐसे लोग जो योग में नए हैं और योग के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं रखते और उन्हें लगता है कि योग को किसी भी समय किया जा सकता है, पर ऐसा बिलकुल भी नहीं है। योग को दिन के समय नहीं करना चाहिए बल्कि सुबह-सुबह योग करना सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है। वहीं अगर आप बीमार हैं या आपको कोई गंभीर समस्या है, तो उस समय भी योग न करें।
 
 
योग के तुरंत बाद स्नान नहीं करना चाहिए, क्योंकि व्यायाम के बाद शरीर गर्म रहता है और यदि आप एकदम नहाएंगे तो आपको शारीरिक तकलीफ हो सकती है इसलिए योग के 1 घंटे बाद नहाना उचित होता है। सबसे जरूरी बात यह कि यदि आप किसी आसन के बारे में अच्छे से नहीं जानते तो उसे न ही करें। किसी एक्सपर्ट के मार्गदर्शन के बाद ही आसन करें, नहीं तो गलत आसन कोई दूसरी शारीरिक तकलीफ दे सकता है।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 25 सितंबर को है 'वर्ल्ड फार्मासिस्ट डे', ऐसे बनाएं इस क्षेत्र में करियर