Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Shri Pitreshwar Hanuman Dham : इंदौर में अद्‍भुत नजारा, 7 किमी लंबी सड़क पर 10 लाख लोगों ने किया नगरभोज (देखें फोटो)

webdunia
मंगलवार, 3 मार्च 2020 (23:03 IST)
यूं तो इंदौर जगह-जगह भंडारे होते रहते हैं, लेकिन मंगलवार के दिन अद्‍भुत नजारा था। पितृ पर्वत से 7 किमी लंबी सड़क पर बैठकर लाखों लोगों ने श्री पितरेश्वर हनुमानजी के प्रसाद को ग्रहण किया। देर रात तक हनुमानजी की प्रसादी का भंडारा चलता रहा। (फोटो : धर्मेंद्र सांगले)
webdunia
इस नगर भोज में सड़क के एक तरफ बैठकर लोग अनुशासन के साथ महाप्रसादी को ग्रहण कर रहे थे। प्रसादी ग्रहण के साथ ही यातायात को व्यवस्थित रखने और सफाई का पूरा ध्यान रखा जा रहा था। 
webdunia
श्री पितरेश्वर हनुमान धाम के प्राण-प्रतिष्ठा समारोह में 10 लाख लोगों के लिए नगर भोज मंगलवार शाम 4 बजे से शुरू हुआ।
webdunia
हनुमान धाम, गांधीनगर और एयरपोर्ट के पास 3 मैदानों पर, बाकी जगह सड़क पर कुल 7 किमी की पंगत में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया।
webdunia
महिला कार्यकर्ताओं ने भी अन्नपूर्णा के रूप में लोगों को प्रसादी वितरित की। नगर निगम के कर्मचारियों के साथ ही कार्यकर्ताओं ने भी सफाई का पूरा ध्यान रखा।
webdunia
शुद्ध सामग्री से तैयार पुरी, रामभाजी और नुक्ती को लोगों ने प्रसाद के रूप में ग्रहण किया। इसमें बच्चे, बुजुर्ग, युवा, महिला सभी शामिल थे।
webdunia
महाप्रसादी के आयोजन से पहले मंत्रोच्चार और पूजा-पाठ हुआ। इसमें भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय भी शामिल हुए। 
webdunia
हनुमान धाम, गांधीनगर और एयरपोर्ट के पास 3 मैदानों पर, बाकी जगह सड़क पर कुल 7 किमी की पंगत में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया।
webdunia
 भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने श्रद्धालुओं को परोसगारी भी की और बीच-बीच में पूरी व्यवस्था का जायजा लिया। 
webdunia
कैलाश विजयवर्गीय के सुपुत्र विधायक आकाश विजयवर्गीय ने भी पंगत में बैठे श्रद्धालुओं को परोसगारी की।
webdunia
इस भव्य भोज के साथ ही पितृ पर्वत पर विराजे श्री पितरेश्वर हनुमानजी के 9 दिवसीय प्राण प्रतिष्ठा समारोह का समापन हो गया। 
webdunia
2002 में इंदौर के महापौर बनने के कैलाश विजयवर्गीय ने पितृ पर्वत (अब पितेश्वर हनुमान धाम) पर अपनों की याद में पौधे लगवाए थे। 
webdunia
इसके बाद जब कैलाश विजयवर्गीय मंत्री बने तो उन्होंने पहली कसम यही खाई कि जब तक पितृ पर्वत पर हनुमानजी नहीं विराजेंगे तब तक वे अन्न ग्रहण नहीं करेंगे।
webdunia
28 फरवरी को उन्होंने 'पितरेश्वर हनुमान धाम' में हनुमानजी की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद उन्होंने अपने गुरु शरणानंद के हाथों अन्न ग्रहण किया।
webdunia
पितरेश्वर हनुमान धाम में 14 फरवरी से चल रहे आयोजन की 'पूर्णाहुति' 3 मार्च को अतिरुद्र महायज्ञ में 24 लाख आहुतियां पूरी होने के साथ हुई।
webdunia
भगवान को भोग लगाया गया और फिर शुरू हुआ इंदौर शहर के 10 लाख लोगों के लिए 'नगर भोज'। इसमें परोसगारी में खुद विजयवर्गीय शामिल हुए।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

PitreshwarDham : पितृ पर्वत से 7 किमी लंबी सड़क पर 10 लाख लोगों ने किया नगरभोज