Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

जहां पर इमरान पर हुआ था हमला, वहां से गुरुवार को फिर शुरू होगा लॉन्ग मार्च

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 8 नवंबर 2022 (18:41 IST)
इस्लामाबाद/लाहौर। इमरान खान पर हमले की वजह से पिछले सप्ताह स्थगित किया गया पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ (पीटीआई) का लॉन्ग मार्च गुरुवार को फिर शुरू होगा। पार्टी के 2 नेताओं ने सोमवार को यह बात कही। लॉन्ग मार्च उसी स्थान से फिर से शुरू होगा, जहां खान पर हमला हुआ था।
 
लाहौर के जमान पार्क में पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत करते हुए उपाध्यक्ष शाह महमूद कुरैशी ने घोषणा की कि गुरुवार को लॉन्ग मार्च उसी स्थान से फिर से शुरू होगा, जहां खान पर हमला हुआ था, वहीं एक अन्य वरिष्ठ नेता फैसल जावेद खान ने भी कहा कि पार्टी का लॉन्ग मार्च 10 नवंबर को फिर से शुरू होगा।
 
यह तीसरी बार है, जब पार्टी ने लॉन्ग मार्च की तारीख बदली है, जो 70 वर्षीय खान की हत्या की असफल कोशिश के बाद रुक गया था। पहले पार्टी ने कहा था कि मार्च मंगलवार को फिर से शुरू होगा लेकिन बाद में तारीख बदलकर बुधवार कर दी गई।
 
पूर्व सूचना मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष फवाद चौधरी ने एक ट्वीट में कहा कि पार्टी का लॉन्ग मार्च स्थानीय समयानुसार मंगलवार के बजाय बुधवार को फिर से शुरू होगा। मार्च 28 अक्टूबर को लाहौर से शुरू किया गया था, जो 11 नवंबर को इस्लामाबाद में समाप्त होना था। 3 नवंबर को वजीराबाद में इसे तब रोक दिया गया था, जब बंदूकधारियों ने खान के कंटेनर पर गोलीबारी की जिसमें 1 व्यक्ति की मौत हो गई और पीटीआई अध्यक्ष सहित कम से कम 11 अन्य लोग घायल हो गए।
 
पूर्व विदेश मंत्री कुरैशी ने पहले कहा था कि लॉन्ग मार्च मंगलवार को उसी जगह से शुरू होगा, जहां पार्टी प्रमुख इमरान खान पर हमला हुआ था। लाहौर में कुरैशी ने कहा कि इस कदम ने पार्टी कार्यकर्ताओं और राष्ट्र को एक स्पष्ट संदेश भेजा है कि जब तक हकीकी आजादी प्राप्त नहीं हो जाती, तब तक मार्च जारी रहेगा।
 
कुरैशी ने कहा कि सर्जरी के बाद स्वास्थ्य लाभ कर रहे खान मार्च के आगे बढ़ने पर वीडियो लिंक के माध्यम से भाषण देंगे। रविवार को सफल सर्जरी के बाद खान को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी। अब वे लाहौर में एक निजी आवास में हैं।
 
'डॉन' अखबार की एक खबर के मुताबिक कुरैशी ने रविवार को फैसलाबाद के घंटाघर चौक पर एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि खान ने उन्हें अपने स्थान पर मार्च का नेतृत्व संभालने के लिए कहा था। उन्होंने कहा कि भले ही वे (खान) पूरी तरह से स्वस्थ नहीं हुए हैं, लेकिन वे रावलपिंडी में मार्च में शामिल होंगे।
 
उन्होंने कहा कि फैसलाबाद और पूरे देश के लोगों की मांग है कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ और गृहमंत्री राणा सनाउल्लाह खान अपना पद छोड़ दें, क्योंकि वे वजीराबाद में खान पर हुए हमले के असली साजिशकर्ता हैं। पंजाब प्रांत के वजीराबाद शहर में मार्च के दौरान गत गुरुवार को 2 बंदूकधारियों ने खान पर गोलियां चलाई थीं। एक गोली उनके दाहिने पैर में लगी थी। इस हमले में पीटीआई के 1 कार्यकर्ता की मौत हो गई थी।(भाषा)
 
Edited by: Ravindra Gupta

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Chandra Grahan 2022 : खत्म हुआ 2022 का अंतिम चन्द्रग्रहण, नदियों में स्नान के लिए उमड़े श्रद्धालु, खुले मंदिरों के पट, हुआ शुद्धिकरण