अमेरिका से तनाव के बीच अपने ही पोत पर गिरी ईरानी मिसाइल, 19 नौसैनिकों की मौत

सोमवार, 11 मई 2020 (23:54 IST)
फाइल फोटो
तेहरान। हरमुज जलडमरू के पास सैन्य अभ्यास के दौरान ईरानी नौसेना की एक मिसाइल अपने तयशुदा लक्ष्य के बजाय दुर्घटनावश एक अन्य पोत पर गिर गई, जिसमें 19 नौसैनिकों की मौत हो गई और 15 अन्य घायल हुए हैं। ईरानी अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। 

यह युद्धाभ्यास रविवार को हो रहा था और और इससे अमेरिका से बढ़ते तनाव के बीच ईरानी सशस्त्र सेनाओं की तैयारियों को लेकर नए सिरे से सवाल उठने लगे हैं। कुछ महीने पहले ही उसने तेहरान के निकट एक यूक्रेनी विमान को दुर्घटनावश मार गिराया था, जिससे उसमें सवार 176 लोगों की मौत हो गई थी।

यह दुर्घटना हाल में फारस की खाड़ी में ईरानी और अमेरिकी नौसैन्य बलों के बीच उत्पन्न तनाव के बाद हुई है।ईरान के विश्व शक्तियों के साथ हुए परमाणु करार से दो साल पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अलग हो गए थे और उन्होंने ईरान पर अधिकतम दबाव का अभियान शुरू कर दिया था। विश्लेषकों ने चेतावनी दी थी कि क्षेत्रीय तनाव फिर बढ़ेगा।

ईरानी सेना ने एक बयान में कहा कि घटना रविवार को जसक के बंदरगाह के पास हुई जो तेहरान से करीब 1270 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में ओमान की खाड़ी में स्थित है। सैन्य अभ्यास के दौरान मिसाइल हेंडिजन-क्लास सपोर्ट पोत कोनारक पर जा गिरी।

ईरान की नौसेना इस क्षेत्र में गश्त लगाती है जबकि अर्धसैनिक बल रिवोल्यूशनरी गार्ड के पोत आमतौर पर फारस की खाड़ी में गश्त करते हैं। सरकारी टेलीविजन के अनुसार, कोनारक पोत निशाने के काफी पास था। कोनारक दूसरे पोतों के लिए निशानों को समुद्र में स्थापित कर रहा था। उसने कहा कि मिसाइल दुर्घटनावश पोत पर गिर गई।

जिस पोत ने कोनारक को निशाना बनाया अधिकारियों ने उसका नाम नहीं बताया लेकिन ईरान में अर्धसरकारी मीडिया के मुताबिक निशाना लगाने वाला नौसैनिक पोत जामरान था। अधिकारियों ने शुरू में कहा कि सिर्फ एक सैनिक की मौत हुई है, लेकिन जल्द ही यह संख्या बदलकर 19 हो गई।
 
सरकारी समाचार एजेंसी इरना के मुताबिक, एक स्थानीय अस्पताल में 12 सैनिकों को भर्ती कराया गया और तीन अन्य का हल्की चोटों के लिए उपचार किया गया। हमले के बाद एक ईरानी पोत कोनारक को खींचकर पास के नौसैनिक अड्डे तक ले गया।(भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मध्यप्रदेश में 17 मई के बाद भी नहीं खत्म होगा Lockdown, शिवराज ने दिए संकेत